Breaking News

गर्मी के मौसम में खाएं ये चुटकी भर नमक, मिलेंगे यह फायदें

गर्मी का मौसम हो तो व्यक्ति को अपनी डाइट पर खासा ध्यान देना पड़ता है। इस मौसम में खानपान में बरती गई लापरवाही उसके स्वास्थ्य पर गहरा प्रभाव डालती है। खासतौर से, तपिश भरा यह मौसम पाचनतंत्र को काफी कमजोर बना देता है, जिससे व्यक्ति को पेट संबंधी समस्याएं परेशान करती हैं लेकिन अगर आप इन सभी समस्याओं से दूर रहना चाहते हैं तो काले नमक को डाइट का हिस्सा बनाएं। यह न सिर्फ पाचनतंत्र को बेहतर बनाएगा, बल्कि आपको गर्मी में होने वाली अन्य कई परेशानियों से भी निजात दिलाने में मदद करेगा। तो चलिए जानते हैं इन्हीं लाभों के बारे में−

पाचन संबंधी समस्याओं से राहत
गर्मी में लोगों को कब्ज, एसिडिटी, पेट या सीने में जलन या पेट फूलना जैसी परेशानियों का सामना अधिक करना पड़ता है। ऐसे में आप काले नमक को अपने खाद्य व पेय पदार्थों में डालकर सेवन करें। इससे आपको पाचन संबंधी विकारों से आराम मिलेगा और भोजन का डाइजेशन भी बेहतर तरह से होगा।
 
गर्मी में लाभदायक
गर्मी के मौसम में काले नमक का उपयोग विशेषतौर पर करने का एक महत्वपूर्ण कारण यह है कि यह एक ठंडा नमक है जो शरीर के तापमान को बनाए रखने में मदद करता है। इस तरह आप समर्स डिंक में इसे डालकर पी सकते हैं। वैसे आपको बता दें कि काले नमक का प्रयोग आयुर्वेदिक दवाओं को बनाने में भी इस्तेमाल किया जाता है। इसी से आप इसके औषधीय गुणों का अंदाजा लगा सकते हैं।
नींद की परेशानी
गर्मी के मौसम में जब तापमान बहुत अधिक बढ़ जाता है तो बहुत से लोगों को सोने में परेशानी होती है या उन्हें नींद ही नहीं आती। ऐसे में काले नमक का सेवन फायदेमंद साबित होता है। क्योंकि काला नमक दो स्लीप हार्मोन मेलाटोनिन और सेरोटोनिन को प्रिजर्व करने में मदद करता है।
 
मधुमेह में लाभदायक
काला नमक मधुमेह रोगियों के लिए भी बेहद लाभदायक है। यह शरीर के रक्त शर्करा स्तर को विनियमित करने में मदद करता है इसलिए डायबिटीक पेशेंट को तो हर मौसम में इसका सेवन करना चाहिए।
इसका रखें ध्यान
वैसे तो काला नमक सेहत के लिए लाभदायक माना गया है लेकिन इसका सेवन करते समय इसकी मात्रा पर भी ध्यान देना बेहद जरूरी है क्योंकि नमक चाहे जो भी हो, आवश्यकता से अधिक नमक का सेवन कई तरह की परेशानियां खड़ी कर सकता है।

About Jyoti Singh

Check Also

दिल्ली के पुरुष रहें सावधान, बढ़ रहा है इस कैंसर का खतरा…

भारत में प्रोस्टेट समस्याओं का प्रसार तेजी से बढ़ रहा है. दिल्ली कैंसर रजिस्ट्री के मुताबिक, ...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *