Breaking News
pratidhwani rangila bharat
pratidhwani rangila bharat

प्रतिध्वनि रंगीला भारत ने सबको किया मंत्रमुग्ध

लखनऊ।’प्रतिध्वनिः रंगीला भारत’ देखकर हर कोई मंत्रमुग्ध हो गये यह कार्यक्रम स्वयंसेवी संस्था ’रामेश्वरी जगदीश योगक्षेम ट्रस्ट’ ने स्वतंत्रता दिवस की पूर्व संध्या पर उर्दू अकादमी, गोमतीनगर में आयोजित किया गया । स्वतंत्रता दिवस की पूर्व संध्या पर आयोजित इस कार्यक्रम में देश के विभिन्न राज्यों की दुल्हन मंच पर उतरीं। वहीं बच्चे स्वतंत्रता संग्राम सेनानी व राजनेता बनकर आये थे। कलाकारों ने विभिन्न राज्यों के मशहूर नृत्य पेश किए। इस मौके पर 11 ख्यातिलब्ध कलाकारों को सम्मानित किया गया।

मंत्रमुग्ध कर देने वाले

मंत्रमुग्ध कर देने वाले इस कार्यक्रम के रामेश्वरी जगदीश योगक्षेम के संस्थापक अध्यक्ष नागेन्द्र बहादुर सिंह चौहान ने बताया कि कार्यक्रम में 18 से 60 वर्ष की प्रतिभागी महिलाएं भारत के विभिन्न राज्यों की दुल्हन के रूप में रैंप पर उतरीं। वहीं, छह से 12 वर्ष के बच्चे स्वतंत्रता संग्राम सेनानी एवं राजनेता बनकर मंच पर वॉक किया। इसमें सभी महिलाओं को क्राउन पहनाकर सम्मानित किया गया। सभी प्रतिभागी महिलाओं और बच्चों को गिफ्ट दिए गए।
प्रतिध्वनिः रंगीला भारत की संयोजक श्रद्धा सक्सेना ने बताया के कार्यक्रम के दौरान विभिन्न डांस एकेडमी के स्टूडेंट एवं मंझे डांसर देश के विभिन्न राज्यों के लोक एवं शास्त्रीय नृत्य पेश किये। कार्यक्रम में महापौर संयुक्ता भाटिया व पीएचडी चैंबर ऑफ कामर्स के को-चेयरमैन मुकेश बहादुर सिंह मुख्य अतिथि के रूप में उपस्थित थे।

इसमें रिदम डिवाइन इंस्टीट्यूट

इसमें रिदम डिवाइन इंस्टीट्यूट, फिगो मेड क्रू, डांस एडिक्ट सेन्टर, नृत्यांगन डांस अकादमी, स्वर्णहँस नृत्य कला मंदिर, रियल मेकर्स डांस अकादमी, लोकरंग फाउंडेशन, डांस एक्सप्रेशन, भाग्यश्रीयं म्यूजिक अकादमी के बच्चों ने कथक, गरबा, गिदा, भांगड़ा, कालबेलिया, घूमर, भरत नाट्यम, कथकली, कुचीपुड़ी, बिहू , धुनुची, लावणी, डांडिया, राजस्थानी फोक, चौमासा, विदाई, दशावतार व शिव तांडव इत्यादि नृत्य पेश किए। वहीं, लठमार होली, बृज की फूलों वाली होली के अलावा कजरी, चौमासा, सोहर, विवाह गीत, राष्ट्रभक्ति गीत गायन का विशेष संयोजन था।
रंगीला भारत में आलोक त्रिवेदी, गणेश कुमार यादव, मनीष व परवीन सिंह चौहान सहित कई अन्य अतिथि भी कलाकारों का उत्साहवर्धन और सम्मानित करने के लिए मौजूद थे।

इनको मिला सम्मान

1 – कुसुम वर्मा (लोक गायिका)
2 – अमृत सिन्हा (क्लासिकल डांसर)
3 – शमशुर रहमान (भरतनाट्यम नर्तक)
4 – संजोली पाण्डेय (लोक गायिका)
5 – आयुषी पाण्डेय (लोक गायिका)
6 – अंकिता बाजपेयी (रिकॉर्ड होल्डर नृत्यांगना)
7- अनुजा श्रीवास्तव (कत्थक नृत्यांगना)
8 – सुनयना (भरतनाट्यम नृत्यांगना)
9 – वासु कुमार (समकालीन एवं लोक नर्तक)
10 – अश्वनी श्रीवास्तव (भरत नाट्यम एवं कत्थक)
11 – राघवेंद्र (कत्थक एवं लोक नर्तक)

 

About Samar Saleel

Check Also

Sunil Singh said People of the country recognize false temptations

प्रदेश में अपराध और अपराधियों को खत्म करना सरकार के लिए दिवास्वप्न: मसूद अहमद   

लखनऊ। राष्ट्रीय लोकदल के प्रदेश अध्यक्ष डाॅ0 मसूद अहमद ने कहा कि वर्ष 2017 में ...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *