IMF भारत जीएसटी और आधार के माध्यम से इकोनॉमिक पावरहाउस बनेगा

अंतरराष्ट्रीय मुद्रा कोष (IMF) ने कहा कि भारत के लिए जीएसटी और आधार बहुत ही विकासपरक साबित होंगे। जिससे भारत जल्द ही इकोनॉमिक पावरहाउस बनेगा। अर्थव्यवस्था के मोर्चे पर भारत की आर्थिक स्थिति में ग्रोथ बढ़ी है। भारतीय अर्थव्यवस्था पर विश्वास जताने के बाद अंतरराष्ट्रीय मुद्रा कोष ने यहां हो रहे सुधारों को भी बेहतर और सही ठहराया है। आईएमएफ ने कहा है कि भारत में हो रहे जीएसटी और बैंक‍िंग रिफॉर्म्स का फायदा देश को मिल रहा है।

  • जिससे भारत विश्व स्तर पर कोनॉमिक पावरहाउस बनेगा।
  • आईएमएफ ने जीएसटी और आधार को फायदेमंद बताया है।

​IMF, डेविड लिप्टन ने कहा जीएसटी देश के लिए फायदेमंद

आईएमएफ और वर्ल्‍ड बैंक की स्प्रिंग मीटिंग के इतर बोलते हुए संस्था के फर्स्‍ट डिप्‍टी मैनेजिंग डायरेक्‍टर डेविड लिप्‍टन ने कहा कि माल एवं सेवा उत्पाद कर (जीएसटी) की वजह से भले ही कुछ समय तक परेशानी रही हो, लेक‍िन यह सार्वजनिक क्षेत्र के खर्च को सुधारने में मदद करेगा। लिप्टन ने बैंकों की हालत सुधारने के लिए सरकार की तरफ से उठाए गए कदमों की तारीफ की है। उन्होंने कहा कि सरकार की तरफ से उठाए गए ये कदम देश के समावेशी विकास को बेहतर बनायेंगे। जिससे भारत इकोनॉमिक पावरहाउस बनेगा।

  • लिप्टन ने कहा कि वित्त वर्ष में भारत की इकोनॉमी 7.4 फीसदी की रफ्तार से बढ़ेगी। जो 7.8 फीसदी पर पहुंच जाएगी।
  • उन्होंने कहा भारत जैसे बड़े देश को सार्वजन‍िक खर्च को नियंत्रण में रखने से इकोनॉमी में ग्रोथ हुई है।
  • अगर इस पर भारत नियंत्रण रखेगा तो यह ग्रोथ बढ़ेगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *