ब्रेक्जिट से नाराज ब्रिटेन के विदेश मंत्री के इस्तीफे का मामला गरमाया

लंदन। प्रधानमंत्री टेरीजा मे की ब्रेक्जिट रणनीति से नाराज विदेश मंत्री बोरिस जॉनसन ने इस्तीफा दे दिया। उनका इस्तीफा ब्रेक्जिट मंत्री डेविड डेविस के इस्तीफे के एक घंटे के भीतर आया।

डेविड यूरोपीय संघ से अलग होने के मामले में ब्रिटिश सरकार की ओर से मुख्य वार्ताकार थे। उनकी जगह डोमिनिक राब को नया मंत्री बनाया गया है। गौरतलब है कि 28 सदस्यीय यूरोपीय संघ से ब्रिटेन को 29 मार्च 2019 को बाहर हो जाना है।

ब्रेक्जिट रणनीति को लेकर

ब्रेक्जिट रणनीति से नाराज विदेश मंत्री बोरिस जॉनसन के इस्तीफे से प्रधानमंत्री टेरीजा मे के लिए संकट बढ़ने की आशंका जताई जा रही है।

इस्तीफे के बाद जॉनसन ने कहा कि अगले साल ब्रेक्जिट के बाद समूह के साथ करीबी कारोबारी संबंध के लिए सरकार योजना घोषित करेगी। लेकिन देश की स्थिति ईयू के उपनिवेश जैसी हो जाएगी।

इससे पहले इस्तीफा सौंपने वाले ब्रेक्जिट मंत्री डेविड ने कहा था कि उनका इरादा प्रधानमंत्री टेरीजा के खिलाफ बगावत को हवा देना नहीं है।

डेविस को 2016 में ब्रेक्जिट मंत्री बनाया गया था। उस समय उनकी नियुक्ति से लोगों को बहुत हैरानी हुई थी। कई वरिष्ठ मंत्रियों पर तरजीह देकर उनको यह अहम जिम्मेदारी दी गई थी।

नीति के आम निर्देश

डेविस ने मे को लिखे पत्र में कहा कि ब्रेक्जिट को लेकर अपनाई गई नीति के आम निर्देश हमें बातचीत की कमजोर स्थिति में लाकर छोड़ देंगे और शायद उससे बच निकलना भी मुश्किल होगा।

अपने जवाब में मे ने कहा कि कैबिनेट में शुक्रवार को इस नीति पर सहमति बनी थी और इसके बारे में जो बात आप कह रहे हैं उससे मैं सहमत नहीं हूं।

प्रधानमंत्री ने कहा कि वह उनके इस्तीफे से दुखी हैं। लेकिन, हर उस काम के लिए शुक्रिया अदा करना चाहती हैं, जो उन्होंने यूरोपीय संघ से निकलने को दिशा देने के लिए किया है।

ये भी पढ़ें :-Ramnagar encounter : साहस या षड्यंत्र !

ये भी पढ़ें :-उतरागौरी पुहंच कर पूर्व विधायक ने परिजनों को बंधाया ढांढस

ये भी पढ़ें :-बिलासपुर : ट्रेन के सामने गिरा पहाड़

ये भी पढ़ें :-Munna Bajrangi की जेल में हत्या, 4 पुलिसकर्मी सस्पेंड

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *