मुजफ्फरपुर कांड : आरोपी के मुंह पर महिलाओं ने पोती कालिख

पटना। मुजफ्फरपुर बालिका गृह यौन उत्पीड़न कांड में मुख्य आरोपित ब्रजेश ठाकुर की कोर्ट में पेशी के दौरान महिलाओं ने उसके चेहरे पर कालिख पोत दी। ब्रजेश ने कहा है कि उसके नाम के न्यायाधीश भी यहां आते थे। यह बात उसने पेशी के दौरान मीडिया कर्मियों से कही। मामले में न्यायाधीश का नाम पहली बार आया है। एडीजे स्तर के न्यायाधीश को छह माह में एक बार बालिका गृह का निरीक्षण के लिए आना होता था।

मुजफ्फरपुर बालिका गृह कांड में

मुजफ्फरपुर बालिका गृह कांड के मुख्य आरोपित ब्रजेश ठाकुर ने कहा है कि वह लोकसभा चुनाव लड़ना चाह रहा था। इसकी तैयारी भी करीब करीब कर ली थी। ब्रजेश के इस बयान से राजनीति पारा और गरम हो गया है। वहीं, ब्रजेश ने इस मामले में एक न्यायाधीश के नाम को भी सामने ला दिया है। पेशी के दौरान कोर्ट लाए गए ब्रजेश ने कहा कि उसके नाम के एक न्यायाधीश बालिका गृह आते थे। लड़कियां उन्हें ही हंटर वाले अंकल कह रहीं। मुख्य आरेपी के इन दो बयानों से मामला और गरमा गया है।

वहीं, ब्रजेश ने समाज कल्याण मंत्री मंजू वर्मा व उसके पति से गहरा संबंध होने से इन्कार किया है। कहा, उनके साथ व्यवहारिक संबंध रहे हैं। इस बीच कोर्ट हाजत से पेशी के लिए ले जाए जा रहे ब्रजेश के मुंह पर महिलाओं ने कालिख पोत दी। इससे कोर्ट परिसर में अफरातफरी मच गई। एक महिला को हिरासत में लिया गया है।

बिहार कांग्रेस ने ब्रजेश से किसी भी तरह के संबंध से साफ इंकार किया। प्रभारी अध्यक्ष कौकब कादरी ने कहा ब्रजेश की फंडिंग सरकार कर रही थी। मंत्री मंजू वर्मा और उनके पति से उसकी बात होती थी और वह चुनाव कांग्रेस से लड़ना चाहता था। ब्रजेश के हवाले यह पठकथा कौन लिख रहा है- बीजेपी या जदयू । ब्रजेश को यह बताना चाहिये कि कांग्रेस में उनके किसके साथ संबंध हैं? कादरी ने यह दोहराया कि मुज़फ़्फ़रपुर मसले पर कांग्रेस बड़ा आंदोलन खड़ा करेगी।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *