21st Commonwealth Games : भारत की एक और बेटी ने जीता स्वर्ण

आज 21st Commonwealth Games में भारत की एक और बेटी वेटलिफ्टर संजीता चानू ने देश के नाम  स्वर्ण पदक जीता। इस तरह भारत आज दूसरे दिन दो स्वर्ण जीत चूका है।

21st Commonwealth Games : संजीता चानू ने 53 किग्रा कैटेगरी में दिलाया पदक

वेटलिफ्टर संजीता चानू ने शुक्रवार को 53 किग्रा कैटेगरी में यह पदक दिलाया। उन्होंने कुल 192 किलोग्राम (स्नैच में 84 किग्रा और क्लीन एंड जर्क में 108 किग्रा) वजन उठाया। संजीता ने लगातार दूसरे कॉमनवेल्थ में गोल्ड मेडल जीता है। इससे पहले उन्होंने 2014 ग्लासगो कॉमनवेल्थ में 48 किग्रा कैटेगरी में यह पदक अपने नाम किया था। पापुआ न्यू गिनी की लोआ टौआ ने सिल्वर और कनाडा की राचेल बैजिनेट ने ब्रॉन्ज जीता।

पदक लेते समय रो पड़ीं संजीता

संजीता ने कहा ,‘‘मैने राष्ट्रमंडल चैम्पियनशिप में इससे बेहतर प्रदर्शन किया था लेकिन मैं अपने प्रदर्शन से खुश हूं ।’’

पदक लेते समय संजीता रो पड़ी और पिछले कुछ महीने से अच्छे प्रदर्शन का दबाव पोडियम पर उनके आंसुओं के रूप में नजर आया। उसने कहा ,‘‘ कई लोगों ने कहा कि मैं पदक नहीं जीत सकती। पिछले साल विश्व चैम्पियनशिप के दौरान मुझे कमर में चोट लगी थी और मैं पूरी तरह उबर नहीं सकी हूं।’’

  • 24 साल की संजीता चानू ने खेल के दौरान अपनी तीन कोशिशों में लगातार 81, 82 और 84 किग्रा वजन उठाते हुए कॉमनवेल्थ गेम्स में रिकॉर्ड कायम किया।
  • क्लीन एंड जर्क में 192 किग्रा वजन उठाकर गोल्ड मेडल पर कब्जा किया।
  • दूसरे नंबर पर रही पापुआ न्यू गिनी की लोआ डिका उनसे 10 किग्रा वजन उठाने में पीछे रहीं। लोआ कुल 182 किग्रा वजन उठा सकीं।
  • कनाडा की राचेल बैजिनेट ने कुल 181 किग्रा पर अपना गेम फिनिश किया।

2014 ग्लासगो कॉमनवेल्थ गेम्स में भारत की स्वाति ने स्नैच में 83 किग्रा वजन उठाकर रिकॉर्ड बनाया था। इसे शुक्रवार को गोल्ड कोस्ट में संजीता ने 84 किग्रा वजन उठाकर तोड़ दिया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *