जागरूकता एवं सहयोग ही है संचारी रोग से बचाव : CMO

रायबरेली। प्रदेश के मुख्य मंत्री योगी आदित्यनाथ की सोच “स्वच्छ प्रदेश, स्वस्थ प्रदेश”, “सबका साथ सबका विकास” तभी होगा जब समाज में सभी स्वस्थ रहे निरोगी रहे। इसी के तहत पूरे प्रदेश में विशेष संचारी रोग माह अभियान 2 जुलाई से 31 जुलाई 2018 तक चलाया जा रहा है।

विकास खंड स्तरीय गोष्ठी के आयोजन से संचारी रोग से बचाव

जिले को निरोगी एवं स्वस्थ बनाने के उद्देश्य से जिला अधिकारी संजय कुमार खत्री के दिशा निर्देशन में मुख्य चिकित्सा अधिकारी डा. डी के सिंह के कुशल संचालन में विशेष संचारी रोग माह के तहत विकास खंड स्तर पर स्वास्थ्य, शिक्षा, बाल विकास, पंचायती राज्य विभाग के सहयोग से जन जागरूकता अभियान चलाया जा रहा है।

इसी क्रम में सी एच सी सलोन द्वारा सूची में विशेष संचारी रोग नियंत्रण माह के तहत विकास खंड स्तरीय गोष्ठी का आयोजन किया गया। जिसमें बतौर मुख्य अतिथि सी0 एम0ओ0 एवं विशिष्ट अतिथि बी0 ई0ओ0 वी एन प्रजापति एवं रितु श्रीवास्तव जिला मलेरिया अधिकारी तथा अद्यक्षता ग्राम प्रधान कृष्णा देवी ने विशेष संचारी रोग नियंत्रण के लिए बच्चों के माध्यम से घर-घर तक स्वच्छता के प्रति जागरूक करने के उद्देश्य से बच्चों के बीच मे संचारी रोग क्या है और बचने के उपाय पर निबन्ध प्रतियोगिता विद्यालय स्तर पर कराई।

संचारी रोग से बचने का सशक्त माध्यम है – जागरूकता

इसमें काजल सरोज प्रथम, सुषमा द्वितीय, अंन्जू त्रितीय तथा मोहिनी व आँचल सान्त्वना पुरस्कार के लिए चयनित की गई, जिन्हे CMO द्वारा प्रमाण पत्र एवं पुरस्कार देकर सम्मानित किया। सी एम ओ डाॅ डी के सिंह ने कहा कि संचारी रोग से बचने का सशक्त माध्यम है- जागरूकता। सभी लोग आस पास साफ सफाई रखे, मच्छरदानी का प्रयोग करें, आस पास पानी न इकट्ठा करें एक दूसरे को जागरूक करें तभी हम सब स्वस्थ एवम निरोगी रह सकते है।

उन्होने कहा कि, “मुख्यमंत्री का यह विशेष अभियान है, इसमें हम सब सहयोग करें।

डी एम ओ रितू श्रीवास्तव ने कहा कि कूलर, गमला, टायर, गड्ढों में पानी इकट्ठा न होने दे, समय समय पर पानी बदलते रहे क्योंकि मच्छर ऐसी जगहों पर ही पाए जाते है।

बी ई ओ वी एन प्रजापति ने कहा कि स्वास्थ्य विभाग के दिशा निर्देशो के क्रम में सभी स्कूलो मे प्रार्थना के समय में बच्चों को जागरूक किया जाता है।

एच ई ओ डाॅ रत्नाकर पान्डे ने कहा कि सभी बच्चे फुल आस्तीन का कपड़ा पहने और सफाई पर ध्यान दे।

गोष्ठी को प्रमुख रूप से डाॅ राजेश यादव, वन्दना त्रिपाठी यूनीसेफ, अंजली सिंह एच ई ओ , नीलम वर्मा वार्डेन ने सभी से “स्वच्छता अपनाओ, बीमारी भगाओ” का संदेश दिया। गोष्ठी को सफल बनाने में मीना सिंह, प्रतिभा सिंह , अपूर्वा श्रीवास्तव, अंजू राय, अर्चना मिस्रा, पूजा तिवारी ANM , निशा शुक्ला, सुनीता मौर्या ने सफल बनाने में सहयोग दिया।

कार्यक्रम का संचालन एस एस पान्डे प्र0अ0/ रिसोर्स पर्सन बालिका शिक्षा एवं आभार अर्चना मिश्रा द्वारा व्यक्त किया गया।

रिपोर्ट – दुर्गेश मिश्रा

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *