Non-human घटना से बुलंदशहर हिला : डॉ. मसूद

लखनऊ। राष्ट्रीय लोकदल के प्रदेश अध्यक्ष डॉ. मसूद अहमद ने कहा कि प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के द्वारा दिये गये वक्तव्यों एवं अपनाई गयी कार्यशैली का ही परिणाम बुलंदशहर की Non-human अमानवीय घटना है जिसकी निंदा करने के लिए शब्द कम पड़ जायेंगे। वास्तविकता यह है कि मुख्यमंत्री ने कुर्सी संभालते ही एक ओर प्रदेश के पुलिस अधिकारियों का यह कहकर मन बढाया कि जो भी अपराधी मिले उसे ठोक दों।

Non-human व्यवहार से अनेकों निर्दोष

इसका परिणाम यह हुआ है कि Non-human अमानवीय व्यवहार से अनेकों निर्दोष मारे गये। दूसरी ओर हिन्दू युवा वाहिनी, बजरंग दल,  हिन्दू परिषद और भारतीय जनता पार्टी के कार्यकर्ताओं का यह कहकर मन बढाया कि कार्यकर्ताओं की शिकायत पर अधिकारियों पर कार्यवाही होगी। परिणामस्वरूप दोनो ही वर्ग पुलिस और भाजपा एवं उसके सहयोगी संगठन प्रदेश भर में कई बार आमने सामने हो चुके हैं जिसमें कहीं पर पुलिस वालों को थप्पड मारा गया है तो कही पर भाजपा और दूसरे सहयोगी संगठनों के लोग पुलिस द्वारा मारे गये हैं।

जनपद बुलंदशहर की घटना विकराल रूप लेकर सामने आयी है जिसमें पुलिस कोतवाल के साथ साथ सरकार समर्थित कार्यकर्ता भी मारा गया है।

डॉ. अहमद ने कहा कि मुख्यमंत्री द्वारा आर्थिक सहायता देने से मृतक व्यक्तियों के परिवार की क्षतिपूर्ति नहीं हो सकती है क्योंकि इंस्पेक्टर सुबोध कुमार सिंह की हार्दिक इच्छा अपने बेटे और बेटियों को उच्च स्तर तक पहुंचाने के साथ साथ स्वयं भी पुलिस विभाग के उच्च पद तक पहुंचने की रही होगी और सुमित सिंह अभी नवयुवक था उसके परिवार की बहुत कुछ आशाएं उससे जुडी रही होंगी क्या योगी आदित्यनाथ द्वारा दी गयी आर्थिक सहायता मृतकों के परिवार के सदस्यों के जख्मों पर मरहम लगा सकेगी?

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *