Jinna का पुतला फूंकने को लेकर हाथापाई, मौके पर पुलिस ने संभाला मोर्चा

Jinna का पुतला फूंकने को लेकर एएमयू और हियुवा में आपस में हाथापाई के बाद मारपीट की नौबत सामने आ गई। जिसमें मौके पर पुलिस बल ने पहुंचकर मामले को संभाल लिया। दरसअल अलीगढ़ में अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद और हिंदू युवा वाहिनी के कार्यकर्ताओं ने बुधवार को एएमयू के बाबा सैयद गेट पर मोहम्मद अली जिन्ना का पुतला फूंका गया। जिसके बाद हिंदूवादी छात्र संगठन और एएमयू छात्रों के बीच हाथापाई की नौबत आ गई। दोनों ओर से मामला ज्यादा बढ़ने से लाठी-डंडे निकल आए और एक दूसरे को मारने के लिए मामला तूल पकड़ने लगा। लेकिन मौके पर पहुंची पुलिस ने बीच-बचाव करते हुए दोनों गुटों को अलग कर दिया।

Jinna, एएमयू में भारी पुलिस बल तैनात

एएमयू में मामले को बढ़ता देख भारी पुलिस बल तैनात किया गया कर दिया गया है। एएमयू के गेट पर पहली बार हिंदूवादी छात्र संगठन के पुतला फूंके जान से एएमयू के छात्र संगठनों ने नारबाजी की है। हालांकि इसके पहले एएमयू के छात्र पु​तला दहन कर चुके हैं। सुरक्षा की दृष्टि से कैंपस में किसी तरह की अप्रिय घटना से बचने के लिए भारी पुलिस बल तैनात कर दिया गया है।

छात्रसंघ भवन में लगी है मोहम्मद अली जिन्ना की तस्वीर

एएमयू के अंदर छात्रसंघ भवन में मोहम्मद अली जिन्ना की तस्वीर लगे होने पर विवाद बढ़ गया। हिंदूवादी छात्र संगठनों ने इसका भारी विरोध शुरू कर दिया। जिसके बाद मामला गरमाता चला गया। हालांकि मौके पर पुलिस फोर्स तैनात कर दी गई है और पुतला फूंकने के बाद हिंदूवादी संगठनों को बाबा सैयद गेट से हटा दिया गया है।

दोनों पक्षों में विवाद होने से पहले पुलिस ने मामले को किया रफादफा

एसपी सिटी अतुल श्रीवास्तव ने बताया कि एएमयू में मोहम्मद अली जिन्ना का पुतला फूंका गया। जिसके बाद से दोनों पक्ष आमने सामने आ गये और दोनों को अलग करते हुए ​हटा दिया गया। उन्होंने कहा कि किसी प्रकार का कोई झगड़ा नहीं हुआ और हिंदूवादी छात्र संगठन अचानक बाबा सैयद गेट पर पहुंचे थे। जिन्हें वहां से हटा दिया गया है। एसपी सिटी ने कहा कि इस प्रकरण की जांच कराई जाएगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *