Pravesh Singh : संदिग्ध परिस्थितियों में कोंग्रेसी नेता की मौत

महराजगंज (रायबरेली)। कोतवाली क्षेत्र के मऊ में वरिष्ठ कांग्रेसी नेता प्रवेश सिंह Pravesh Singh का संदिग्ध परिस्थितियों में कमरे के अंदर शव बरामद होने से संपूर्ण क्षेत्र में शोक की लहर दौड़ गई। कांग्रेसी नेता की मौत के बाद हजारों की संख्या में लोगो ने उनके घर पहुंचकर शोक संवेदना व्यक्त किया।कोतवाली पुलिस ने शव का पंचनामा कर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है।

Pravesh Singh को चाय देने

बताते चलें कि मऊ गांव निवासी व वरिष्ठ कांग्रेसी नेता प्रवेश सिंह उम्र लगभग 40 वर्ष का बीती रात कमरे के अंदर पंखे से लटकता हुआ शव सुबह परिजनों को मिला जब परिजन प्रवेश सिंह को चाय देने के लिए गए तो देखा कि कांग्रेस नेता का शव पंखे से लटका हुआ मिला, जिसके बाद घर में कोहराम मच गया। यह खबर पूरे क्षेत्र सहित जिले में फैल गई, जिसके बाद मृतक प्रवेश सिंह के घर पर शोक संवेदना व्यक्त करने वालों का तांता लग गया।

महराजगंज विकासखंड के महासचिव

मिलनसार स्वभाव से प्रवेश सिंह के मृत्यु की खबर सुनते ही हर व्यक्ति समाज का हर सजग प्रहरी आश्चर्यचकित था कि घर का होनहार व्यक्ति को आखिर क्या हो गया है जो उन्हें ये कदम उठाना पड़ा। प्रवेश सिंह अपने पीछे पत्नी,एक बेटा व दो बेटी छोड़ गए हैं। बेटे की मौत पर माता-पिता व भाई तथा बहनों का रो-रो कर बुरा हाल था। मऊ गांव निवासी मृतक प्रवेश सिंह पुत्र डाo सुरेन्द्र सिंह कांग्रेस पार्टी के महराजगंज विकासखंड के महासचिव थे,तो वहीं कांग्रेस पार्टी में मास्टर कोच के पद पर भी तैनात रहे। इनकी सक्रियता व पार्टी के प्रति निष्ठावान कार्यकर्ता के रूप में जिले के सांसद सोनिया गांधी राहुल गांधी व प्रियंका गांधी द्वारा गुजरात मुंबई अन्य राज्यों में होने वाले विधानसभा चुनाव के विशेष जिम्मेदारी भी दी जाती थी।

कांग्रेसी नेता प्रवेश सिंह की फासी लगाकर मौत का मामला प्रकाश में आया है। शव का पंचनामा कर पीएम के लिए भेजा गया है,पीएम रिपोर्ट आने के बाद ही मौत का कारण स्पष्ट होगा-CO गोपीनाथ सोनी

संवेदना व्यक्त करने

संवेदना व्यक्त करने वालों में ब्लाक प्रमुख सत्येंद्र प्रताप सिंह, अजीत सिंह, विद्यासागर, अवस्थी दीपू , भूपेश मिश्रा, राजन सिंह, रानू सिंह, सरदार फतेह सिंह, अभय सिंह,राघवेंद्र मिश्रा,कृपा शंकर शर्मा,भोलू सिंह सहित हजारों की संख्या में लोग शामिल रहे।

रत्नेश मिश्रा
रत्नेश मिश्रा

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *