Cashier हत्याकांड और लूट का खुलासा

लखनऊ। विभूतिखंड थाना क्षेत्र में हुए Cashier कैशियर श्याम सिहं हत्याकांड का पुलिस ने खुलासा कर दिया है। पुलिस ने मुख्य आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है। मुख्य आरोपी राजस्थान के अलवर जिले का रहने वाला है। इस अलावा हत्या में शामिल तीन अन्य अभियुक्त फरार हैं। उन्हें पकड़ने का प्रयास पुलिस कर रही है

Cashier श्याम सिंह की हत्या

विभूतिखंड थाना क्षेत्र में दस लाख की लूटपाट के बाद Cashier कैशियर श्याम सिंह की हत्या के मामले में पुलिस दस दिन तक छानबीन करती रही पर कोई कामयाबी हाथ नहीं लगी थी। जिससे पीड़ित परिवार में पुलिस की कार्यप्रणाली को लेकर आक्रोश भी था।

श्याम सिंह के भतीजे प्रवीण सिंह ने बताया कि पुलिस से जब भी पूछो तो सिर्फ तहकीकात की बात कहती है लेकिन, ये नहीं पता पुलिस कौन सी तहकीकात कर रही है कि दस दिन बाद हत्यारों का अभी सुराग तक नहीं लग सका है।

गौरतलब है कि मूलरूप से गोसाईंगंज के परेहटा गांव निवासी सेवानिवृत्त शिक्षक माता बख्श सिंह के बेटे श्याम सिंह विभूतिखंड क्षेत्र में पत्नी भावना सिंह व बेटी गुंचा सिंह व सुधि सिंह के साथ रहते थे और निजी गैस एजेंसी में काम करते थे।

29 अक्टूबर की सुबह दस बजे के करीब श्याम सिंह बैंक ऑफ इंडिया में रुपये जमा करने जा रहे थे। बैंक के सामने उर्दू एकेडमी रोड पर उन्होंने अपनी स्प्लेंडर बाइक बैंक के सामने परचून की दुकान पर खड़ी की और जैसे ही बैंक में रुपये जमा करने के लिए आगे बढ़े। दो बदमाश बाइक से आए और एक ने नीचे उतरकर श्याम सिंह को गोली मार कर दस लाख रूपये लूट ले गये।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *