Naxalism का जल्द होगा सफाया : राजनाथ

लखनऊ। वह दिन दूर नहीं जब देश से नक्सलवाद Naxalism और माओवाद का सफाया हो जाएगा यह बात केन्द्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने केन्द्रीय बलों के पराक्रम की सराहना करते हुए रविवार को कही है।

Naxalism और माओवाद पर

नक्सलवाद Naxalism और माओवाद पर सख्त रवैया अपनाते हुए केंद्रीय गृहमंत्री ने त्वरित कार्य बल (आरएएफ) के 26वें स्थापना दिवस पर लखनऊ के बिजनौर स्थित शिविर में आयोजित कार्यक्रम में कहा कि पहले देश के 126 जिलों में नक्सलवाद था, वह अब सिमट कर 10-12 जिलों में रह गया है।

वह दिन दूर नहीं जब केन्द्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) और आरएएफ के पराक्रम के बलबूते पूरे देश से नक्सलवाद और माओवाद का सफाया हो जाएगा। उन्होंने कहा कि इन केन्द्रीय बलों ने दूसरे राज्यों की पुलिस के साथ समन्वय करके हिन्दुस्तान की जनता के मन में भरोसा कायम किया है।

जहां नक्सलवाद था और जहां विकास की किरण नहीं पहुंच पायी थी। वहां इन बलों ने नक्सलवादियों के मजबूत ठिकानों को खत्म किया है और वहां विकास कार्य शुरू हुए हैं।
गृह मंत्री ने कहा कि जब असम में एनआरसी को लेकर आंदोलन हो रहा था, तब वहां सीआरपीएफ को बुलाने की मांग की गयी थी। केरल में बाढ़ के वक्त भी सीआरपीएफ को बुलाने की मांग उठी थी।