NIA करेगी माओवादियों से बरामद सैकड़ों आधार दस्तावेजों की जांच

झारखंड के गिरिडीह जिले में हाल ही में शुरू किये गये नक्सल विरोधी अभियानों के दौरान माओवादियों के पास से सैकड़ों आधार कार्ड सहित कई दस्तावेज और एटीएम कार्ड बरामद किए गए। जिनके खिलाफ राष्ट्रीय जांच एजेंसी NIA ने कहा कि वे उन सभी आधार कार्ड और दस्तावेजों की जांच करायेगी।

  • झारखंड सरकार ने इसके लिए पहले ही सिफारिश की थी।

NIA, अभियान के दौरान 18 माओवादी हिरासत में

आर के मलिक ने बताया कि अभियानों के दौरान सुनील सोरेन, उप क्षेत्रीय कमांडर शेखर उर्फ चार्ली और सोहन मांझी सहित 15 माओवादियों को गिरफ्तार किया गया। सुनील के सिर पर 25 लाख रुपये का इनाम की घोषणा की गई है। इस तलाशी अभियान के दौरान भारी मात्रा में हथियार और गोला-बारूद बरामद किया गया।

  • इसके साथ सुरक्षा बलों ने 1,125 आधार कार्ड, 60 एटीएम कार्ड और 200 बैंक अकाउंट से जुड़े दस्तावेज बरामद किए।

झारखण्ड में तेजी से घट रही नक्सलियों की संख्या

झारखंड में राज्य सशस्त्र पुलिस और सीआरपीएफ के गहन नक्सल विरोधी अभियान के कारण नक्सलियों की संख्या तेजी से घट रही है। राज्य में नक्सल प्रभावित क्षेत्रों में लगातार अभियान चलाये जाने के कारण अब अब केवल 550 से 600 नक्सली ही शेष बचे हैं।

  • जिनके खिलाफ लगातार अभियान जारी है।

प्रमुख माओवादी नेताओं पर एक एक करोड़ का इनाम

झारखण्ड में प्रयाग मांझी, मिसिर बेसरा और प्रशांत बोस सहित सभी शीर्ष माओवादियों नेताओं पर एक-एक करोड़ रुपये का इनाम रखा है।

  • वह पुलिस के रडार पर रहते हैं और उन्हें जल्द ही पकड़ा जा सकता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *