Rakesh Singh ने मुख्यमंत्री को सौंपा पांच सूत्रीय ज्ञापन

महराजगंज,रायबरेली। प्रधान व क्षेत्र पंचायत स्वाभिमान संघ के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष Rakesh Singh राकेश सिंह उर्फ रन्नू सिंह ने मुख्यमंत्री को एक ज्ञापन देकर ग्राम प्रधान व क्षेत्र पंचायत सदस्यों की समस्याओं को लेकर पांच प्रकार की मांग की है। मुख्यमंत्री को दिए गए पांच सूत्रीय ज्ञापन में प्रक्षेप प्रधान व क्षेत्र पंचायत स्वाभिमान संघ के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष राकेश सिंह उर्फ रन्नु सिंह ने कहा है कि प्रधानों का मानदेय यात्रा भत्ता आदि बढ़ाया जाए तथा प्रधानों को लाइसेंस की व्यवस्था की जाए।

Rakesh Singh : प्रधान की हत्या पर दें दस लाख का..

उन्होंने कहा कि किसी भी प्रधान की हत्या होती है तो उसको दस लाख का मुआवजा दिया जाए वही क्षेत्र पंचायत सदस्य को वित्तीय अधिकार दिए जाएं तथा क्षेत्र पंचायत सदस्यों को मानदेय का विकास के लिए धन दिया जाए, जिससे कि क्षेत्र पंचायत सदस्य अपने क्षेत्र का विकास कर सके।

वही राकेश कुमार सिंह उर्फ रन्नु सिंह ने कहा है कि प्रधान व क्षेत्र पंचायत सदस्य एक छोटा जनप्रतिनिधि होता है जिसके ऊपर ग्राम समाज की तमाम समस्याओं का निपटारा करना रहता है। अनेक मामलों को निपटाने में अनेक प्रकार की रंजिशें भी होती है जिसके चलते प्रदेश की सरकार क्षेत्र पंचायत सदस्य व ग्राम प्रधानों को सुरक्षा हेतु निशुल्क शस्त्र लाइसेंस दिलाएं, जिससे कि जनप्रतिनिधियों की सुरक्षा व्यवस्था सुनिश्चित हो सके।

मांग पूरी न होने पर धरना प्रदर्शन के संकेत

वही ग्राम प्रधान व क्षेत्र पंचायत सदस्यों के बीच विकास को लेकर जो मद दिया जाता है उसकी अपेक्षा क्षेत्र पंचायत सदस्यों को विकासखंड में बैठे अधिकारियों द्वारा गुमराह किया जाता है और क्षेत्र पंचायत सदस्यों के अधिकार को छीन कर विकास खंड में बैठे अधिकारी अपने मनमाने रवैए के तहत विकास कार्य कर आते हैं जो नियम विरुद्ध होते हैं और क्षेत्र पंचायत सदस्यों से विकास कार्यों के बारे में ना तो पूछा जाता है ना ही जानकारी ली जाती है, जिसके चलते यदि 1 माह के अंदर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ द्वारा मांगी गई 5 सूत्री मांगों पर विचार न किया गया तो प्रधान संघ व क्षेत्र पंचायत सदस्य भारी मात्रा में मुख्यमंत्री आवास के सामने धरना प्रदर्शन करने के लिए बाध्य होंगे जिसकी समस्त जिम्मेदारी प्रशासन की होगी।

रत्नेश मिश्रा/राजन प्रजापति

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *