Rasulabad : अखिलेश पहुंचे नारद आश्रम

कानपुर। कानपुर देहात जनपद के ब्लाक रसूलाबाद Rasulabad में जो डिम्पल यादव सांसद का लोकसभा निर्वाचन क्षेत्र है, में समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष  अखिलेश यादव 02 दिसम्बर 2018 को नारखास में नारद आश्रम में दर्शन करने पहुंचे। पौराणिक मान्यता है कि यह नारद जी की तपस्थली है। आश्रम के स्वामी 103 वर्ष के श्रीश्री 1008 विष्णु स्वरूप ब्रह्मचारी जी ने समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव को आशीर्वाद दिया और अखिलेश यादव ने बाबाजी को भरोसा दिलाया कि वे जीवन भर निष्ठा और ईमानदारी के साथ जनता की सेवा करेंगे।

Rasulabad के बाद

रसूलाबाद Rasulabad के बाद कानपुर देहात के ही सरदार पुरवा में रविवार को पूर्व मुख्यमंत्री खचांजी के परिवार को पक्का मकान सौंपने गए थे। इसमें दो कमरे, किचन, बाथरूम, सोलर पंखा, लाईट सबकी व्यवस्था है।

पहला उदाहरण है कि यह चार दिन में तैयार हुआ पूरा-पूरा आवास। श्री यादव के साथ पूर्व मंत्री श्री राजेन्द्र चौधरी, संजय सेठ सांसद थे। सरदार पुरवा सभा में प्रेमचन्द्र कठेरिया, पुष्पराज जैन, सुरेश यादव एवं समरथ पाल भी मौजूद थे।

श्री अखिलेश ने खजांची परिवार के प्रति जो सदाशयता दिखाई उसके पीछे उनकी एक अलग दृष्टि और सोच की झलक मिलती है। उनकी प्रतिबद्धता गरीब, किसान, नौजवान के हितों के प्रति है। वे चिंतित होते हैं कि किसान की आय कैसे बढ़ेगी, मंडी व्यवस्था में उसे कैसे लाभ मिलेगा।

उत्पाद लागत का डेढ़ गुना कब मिलेगा? शिक्षा स्वास्थ्य की समस्याओं के प्रति उनमें गहरी संवेदनशीलता है। सरदारपुर गांव जाने के पीछे उनका एक ही मंतव्य था गरीबों की लड़ाई को कैसे तीव्र और सफल बनाया जाए। गरीब की जिंदगी बिना छत के बीत जाती है।

श्री अखिलेश ने दुःख जताया कि गरीबों को अभी भी पक्का मकान नहीं मिल सका है। समाजवादी सरकार ने 3.5 लाख रूपये का मकान दिए थे। अब उनका इरादा कम से कम पांच लाख रूपये का मकान देने का है।

श्री यादव का मानना है कि सरकारों का चरित्र और चेहरा मानवीय होना चाहिए। वे विकास को सर्वोपरि मानते हैं। उनकी दृष्टि में राजनीति में यही पूजा है। सेवा और विकास का कार्य ईमानदारी से हो।

मिलने के लिए बड़ी संख्या में

श्री अखिलेश से मिलने के लिए बड़ी संख्या में बंजारा सपेरा समाज के लाग भी आए थे। श्री यादव ने कहा कि इस समाज को उचित सम्मान मिलना चाहिए। सपेंरो का भारत देश है और इनसे भारत की पहचान है।

उनको एक हजार रूपये पेंशन प्रतिमाह मिलेगी। उन्होंने यह भी कहा कि उन्हें भरोसा है कि गरीब साइकिल के साथ रहेगा। हजारों की संख्या में किसान और नौजवान भी सरदार पुरवा गांव में श्री अखिलेश यादव को सुनने के लिए घण्टों इंतजार में थे।

समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री यादव ने सरदार पुरवा में उपस्थित जनसमूह को सम्बोधित करते हुए कहा कि भाजपा नेतृत्व देश की बुनियादी समस्याओं से ध्यान बंटाने और धान की कीमत, किसान के कर्ज, बेरोजगारी, बीमारी जैसे मुद्दों पर बहस नहीं करना चाहता है। देश को सही रास्ते पर ले जाने की जरूरत है और वह रास्ता समाजवाद का है।

भाजपा जाति धर्म की खाई पैदा कर समाज में नफरत फैलाना चाहती है। इससे खुशहाली नहीं आएगी। इसके लिए हमें विकास को आगे रखना होगा।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *