Jawahar नवोदय विद्यालय की 26 छात्राओं की अचानक बिगड़ी हालत

आज़मगढ़। जीयनपुर स्थित Jawahar जवाहर नवोदय विद्यालय की 26 छात्राएं शनिवार की रात अचानक हालत बिगड़ गई। बीमार छात्राओं को जीयनपुर सीएचसी पर भर्ती कराया गया,जहां हालत गंभीर होने पर 13 को जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया। सीएचसी पर हालत में सुधार होने पर छात्राओं को घर भेजा जा रहा है।

Jawahar नवोदय विद्यालय में रात लगभग नौ बजे

जवाहर Jawahar नवोदय विद्यालय में रात लगभग नौ बजे भोजन करने के बाद पांच छात्राओं की अचानक हालत बिगड़ गई। उल्टी होने औऱ सिर दर्द की शिकायत पर उन्हें अजमगतगढ़ प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र पर ले जाया गया,जहां से डाक्टर ने जीयनपुर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पर भेज दिया। तब तक एक-एक कर दो दर्जन से अधिक छात्राएं बीमार हो गईं। सभी को जीयनपुर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पर भर्ती कराया। हालत गंभीर होने पर डाक्टरों ने 13 छात्राओं को जिला अस्पताल भेज दिया।,जहां इनका इलाज जारी है।

वहीं सीएचसी से इलाज के बाद सुधार होने पर 13 छात्राओं और एक महिला कर्मचारी को विद्यालय लाया गया। अभिभावकों को बुला कर छात्राओं को घर भेजा जा रहा है। छात्राओं ने स्कूल के बगल में एक प्लांट के धुएं से सिर दर्द की शिकायत शुरू होने की बात कही। जीयनपुर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र के डा.जमील ने बच्चियों के बीमार होने पर फूड प्वाइजनिंग और वायरल फीवर की आशंका जताई है।

छात्रों के बीमार होने की सूचना मिलने पर रात लगभग तीन बजे एसडीएम सगड़ी पंकज श्रीस्वातव, ने विद्यालय का निरीक्षण किया।वहाँ खाद्य पदार्थ की सैम्पलिंग भी सम्बंधित विभाग से कराई। साथ ही सीएचसी में भर्ती छात्रों का हाल जाना। इस दौरान स्वास्थ्य विभाग ने भी विद्यालय के मेस में केले का नमूना लिया। प्रभारी प्रमुख चिकित्साधीक्षक डॉक्टर एके सिंह ने बताया कि इन्हें फूड प्वाइजनिंग नही बल्कि वायरल फीवर है।इनके ब्लड में प्लेटलेट काउंट की भी जांच की जा रही है।इससे इन्हें डेंगू की है कि नही इसकी जांच भी हो जाएगी।हालांकि सभी खतरे से बाहर है।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *