ऊंचाहार Grp इंचार्ज की दबंगई,रिश्वत न देने पर ऑटो चालको को पीटा

रायबरेली। ऊंचाहार रेलवे स्टेशन की जीआरपी पुलिस ने मंगलवार के दिन मंगलकार्य करने की जगह धनउगाही मे जुटी थी जिसको लेकर खाकी पर एक बार फिर गंभीर आरोप लगे है। जीआरपी पुलिस के चौकी इंचार्ज व दो सिपाहियो पर 5-5 हजार रूपए का रिश्वत न देने पर गाली गलौज मारपीट व बंधक बनाकर रखने का आरोप दो पीडितो ने लगाया है,जिसकी लिखित शिकायत पीड़ितों ने जीआरपी एसपी से किया है।

5-5 हजार रुपये न देने पर की मारपीट

ऊंचाहार रेलवे स्टेशन पर मंगलवार के दिन 10ः30बजे के तकरीबन जीआरपी पुलिस के चौकी इंचार्ज द्वारा दो अपने सिपाही के साथ स्टेशन के बाहर खडे एक बच्चों को छोडने वाली आटो व एक यात्रियो के ढोने वाले आटो के चालको को बुलाया जिसके बाद दोनो से धनउगाही की बात किया बात न बनने पर दोनो के आटो को जबरन स्टेशन घसीट ले गए जहां पर दोनो को अलग अलग ले जाकर पीडितो के मुताबिक 5-5 हजार रूपए रिश्वत देने पर ही गाडी छोडने की बात कही जिसके बाद जीआरपी चौकी इंचार्ज व दोनो सिपाहियो ने गाली गलौज करते हुए मारपीट किया और तो और बिना जुर्म के जीआरपी चौकी मे बंधक बनाकर बैठाए जाने का आरोप लगाते हुए डीएल व गाडी के कागजात तक ले लेने का आरोप लगाया है।

पीड़ितों ने लिखित शिकायत एसपी जीआरपी से की

जिसमे पीडितो मे स्कूली आटो चालक सचिन कुमार पुत्र कल्लू निवासी गांव गोपापुर कोतवाली ऊंचाहार दूसरा सगीर अहमद पुत्र मजिरअहमद निवासी पट्टीरहस कैथवल है।दोनो पीडितो ने पूरे प्रकरण की लीखित शिकायत एसपी जीआरपी लखनऊ मण्डल को किया है।उधर स्टेशन अधीक्षक राम सुमेर यादव ने बताया कि प्रकरण संज्ञान मे आया है जिसकी विभागीय जांच की जा रही है।उधर आरोपितो मे जीआरपी ऊंचाहार इंचार्ज राघवेन्द्र यादव ने बताया कि आरोप बेबुनियाद है।जीआरपी सीओ ने बताया कि प्रकरण गंभीर है जिसकी विस्तृत जांच करने के बाद विधिक करवाई की जाएगी।

About Samar Saleel

Check Also

amethi returning officer postponed rahul gandhi nomination till 22nd april

अमेठी में राहुल गांधी के नामांकन पत्र की जांच 22 अप्रैल तक टली

लखनऊ। कांग्रेस अध्‍यक्ष राहुल गांधी यूपी के नामांकन पत्र की जांच रिटर्निंग ऑफिसर ने 22 ...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *