The dispute over the money received in the procession
The dispute over the money received in the procession

Procession में लुटाये गये पैसों को लेकर हुआ झगड़ा, एक की मौत

जपपुर। राजस्थान के डूंगरपुर में एक Procession बारात के दौरान बारातियों की ओर से लुटाए गए नोटों के बंटवारे के लिए बैंड वालों में ऐसा झगड़ा हुआ कि एक बैंड वाले ने अपने साथी की जमकर पिटाई कर दी और पिटने वाले की मौत हो गई।

इससे डरे Procession में बैंड के

इससे डरे Procession में बैंड के सभी साथी शव को अस्पताल में ही छोड़कर अपने घरों पर चले गए। मृतक साथी के परिवार वालों को किसी ने सूचित ही नहीं किया। 8 घंटे बाद उसके परिवार के लोगों को इस घटना का पता चला। घटना बुधवार रात करीब 8 बजे मालमाथा मोड़ के पास हुई। यहा एक बारात में नाचते-गाते बारातियों ने उत्साह में रुपए उछाले, जिसे बैंडकर्मी मंशी खराड़ी ने इकट्ठा कर लिया। बारात खत्म होने के बाद बैंड वाले वापस लौट रहे थे। रास्ते में बैंड के गायक पंकज ने रुपए एकत्र करने वाले मंशी से रुपए मांगे तो उसने जेब से 1000 रुपए निकालकर दे दिए।

पूरे रुपए अपनी जेब में

गायक पंकज ने पूरे रुपए अपनी जेब में रख दिए तो साथी मंशी ने अपना हिस्सा मांगा और सभी 10 लोगों में इसे बराबर बांटने के लिए कहा। इतना कहते ही पंकज आवेश में आ गया और मंशी के साथ मारपीट शुरू कर दी। पंकज ने मंशी के गुप्तांग पर लात मार दी। वह बेहोश होकर नीचे गिर पड़ा। बैंड के दूसरे साथियों ने बीच-बचाव कर छुड़वाया।

अस्पताल लेकर गए

गंभीर घायल मंशी खराड़ी को कनबा अस्पताल लेकर गए, लेकिन डॉक्टर नहीं होने की वजह से जिला अस्पताल लेकर आए, यहां जांच के बाद डॉक्टर ने मंशी को मृत घोषित कर दिया। ऐसा होते ही साथी वहां से भाग लिए। वारदात के करीब 4 घंटे बाद रात 12 बजे पुलिस को इस घटना के बारे में पता लगा। उसके बाद अस्पताल प्रशासन की ओर से पुलिस को फोन कर इसके बारे में बताया गया। पुलिस ने व्यक्ति के नाम और पते के आधार पर परिजनों को सूचित किया और आरोपी को पकड़ लिया गया।

About Samar Saleel

Check Also

Jain saint get place in VHP for the first time in history

पहली बार किसी जैन संत को विहिप में मिला स्थान

विश्व हिन्दू परिषद के केंद्रीय संत मार्गदर्शक मंडल में पहली बार किसी संत को स्थान ...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *