बच्चा मिल गया

लखनऊ- आपको 1971 की फिल्म बुड्ढा मिल गया तो याद ही होगी ! यह फिल्म लोगो के ज़ेहन मे आज भी ताज़ा है परंतु उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ मे आज सबके ज़ेहन मे सिर्फ एक ही बात है बच्चा मिल गया । गौरतलब है की  मूल रूप से बस्ती निवासी अमित चौहान गाजीपुर थानाक्षेत्र के सी ब्लॉक मे रहते है । अमित मंगलवार सुबह 8 बजे अपनी गर्भवती पत्नी लक्ष्मी के प्रसव के लिए गाजीपुर थानाक्षेत्र स्थित बाल महिला चिकितशालय एवं प्रसूति केंद्र पहुंचा । मंगलवार सुबह 10  बजे दंपति को पुत्र की प्राप्ति हुई । बुधवार सुबह एक महिला चोर दंपति का नवजात शिशु चुरा कर भाग गयी ।

 

क्या था पूरा मामला

प्रसव के बाद अमित की पत्नी लक्ष्मी को प्रथम तल बेड नंबर 5 पर शिफ्ट कर दिया गया । दंपति को यह पहला बच्चा था जिससे परिजनों मे खुशी का माहौल था । बुधवार दोपहर तकरीबन 2 बजे एक अज्ञात महिला वार्ड मे पहुंची व बच्चे को दुलारते पुचकारते हुये बच्चे की बुआ कोमल से दोस्ती कर ली । थोड़ी ही देर मे महिला सभी परिजनो की दिल जीत ली । दोपहर तकरीबन साढ़े तीन बजे लक्ष्मी अपने परिजनों के साथ वर्ड मे बने शौचालय का उपयोग करने चली गयी । मौका मिलते ही अज्ञात महिला बच्चो को चुरा कर फरार हो गयी । अस्पताल मे लगी सीसीटीवी फूटेज मे 3.55 बजे महिला चोर की तस्वीर कैद हुई है । सीसीटीवी की फूटेज के आधार पर पुलिस पड़ताल कर रही थी ।

 

शुक्रिया !!  लखनऊ (गाजीपुर) पुलिस

 

परिजनों के लिए लखनऊ की गाजीपुर पुलिस किसी भगवान से कम नहीं है । नवजात बच्चे की दादी शांति देवी लखनऊ पुलिस की तारीफ करते करते फफक पड़ी । गाजीपुर पुलिस की तारीफ के लिए के लिए बुजुर्ग महिला के पास शब्द कम पड़ जा रहे थे । वही बच्चे की बुआ कमला चौहान व अंजू चौहान खुशी से मिठाइयाँ बाँट रही है । बच्चे की माँ अपने लाडले को सीने से लगाकर लाड कर रही है । उनकी इस ख़ुशी का कोई अनुमान नहीं लगाया जा सकता है । इस सब का श्रेय लखनऊ पुलिस की गाजीपुर पुलिस को जाता है ।

 

कैसे मिला बच्चा ??

 

बच्चे की चोरी की सूचना पर लखनऊ पुलिस तुरंत सक्रिय हो गयी व सीसीटीवी पुलिस के आधार पर पर्चा चस्पा कराया था । जिसके वजह से शुक्रवार दो अज्ञात व्यक्ति आए व अस्पताल मे मौजूद लैब टेकनीशियन महेश प्रसाद से बच्चे की सूचना देने की बात कहे । इस बावत महेश प्रसाद ने चिकित्सा अधीक्षक से मिलाया । चिकित्सा अधीक्षक ने सूचना लेकर गाजीपुर पुलिस को अग्रसारित किया । सूचना पर गाजीपुर सतर्कता का परिचय देते हुये महिला चोर को गोमती नगर के चमरई गाँव से धर दबोचा ।

 

कौन थी बच्चा चोर ? क्यो चुराई बच्चा ?

 

बच्चा चोर महिला ने पूछताछ के दौरान अपना नाम आरती कश्यप बताया । महिला का पति लवकुश पेशे से एक पेंटर है । आरती कश्यप अपने पति के साथ गोमती नगर के चमरई गाँव मे कमलेश कुमार के घर किराए पर रहती थी । महिला ने बताया की 5 माह पूर्व प्रसव के दौरान उसके बच्चे की मौत हो गयी थी । आरोपी महिला बच्चे की मौत की सूचना अपने परिजनो को नहीं दिया था । महिला अक्सर गाजीपुर थानाक्षेत्र स्थित बाल महिला चिकितशालय एवं प्रसूति केंद्र दवा लेने आती थी । बुधवार के दिन भी महिला अस्पताल पहुंची व बच्चे को देख कर बहक गयी व मौका मिलते ही बच्चा चुरा कर चंपत हो गयी ।

 

 

 

About Samar Saleel

Check Also

जींस पहनकर स्कूल पहुँचने पर शिक्षक को मिला इतना बड़ा दंड, सुनते ही उड़ जाएंगे आपके होश

 आपने इस तरह की खबरें कई बार पढ़ी होगी कि सरकारी दफ्तरों में ड्रेस कोड ...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *