सुदामा बनकर मांगा वोट!

बस्ती. उत्तर प्रदेश में चल रहे चुनावी महापर्व में जहाँ अधिकांश प्रत्याशी जनसंपर्क के दौरान उसमें ग्लैमर का तड़का डाल रहे हैं,वहीं इसके विपरीत जमीनी स्तर से जुड़े कुछ नेता बड़ी ही सादगी से अपना जनसंपर्क अभियान चला रहे हैं।ऐसा ही एक मामला बस्ती जनपद में देखने को मिला जहाँ राष्ट्रीय लोक दल के प्रत्याशी सुदामा बनकर इलाके में जनसम्पर्क स्थापित करते दिखे। उनका मानना है कि मतदान के पूर्व दल व दल के प्रत्याशी का मूल्यांकन करना बेहद जरूरी है।वह बड़ी ही सादगी के साथ “द्वापर युग के सुदामा” की तरह क्षेत्र के पेनहा महेवा कर्मडाड भदासी सिसई बडहर बरगदवा समेत दर्जनों गांवों का तूफानी दौरा करते हुए लोगों से अपने पक्ष मे समर्थन मांग रहे हैं।आरएलडी प्रत्याशी चन्द्रमणि पाण्डेय ने कहा कि न कोई दल न ही दल का नेता एक से आठ तक बंद वजीफा को लेकर मुखर होता है।उन्होंने कहा हमने न केवल अनेकों जनहित के बिन्दुओं के अलावां बंद छात्रवृत्ति को मंहगाई के सापेक्ष पांच सौ प्रतिमाह करने की मांग उठाया,बल्कि निजी प्राथमिक विद्यालयों को भी अनुदानित करने विकलांगों को बस में पुनः यात्रा सुविधा बहाल करने खाद बीज बिजली मुफ्त करने के साथ-साथ किसानो व नौजवानों की हर पल लडाई लड़ी है। हमारे दल का ही नारा रहा है “जय जवान जय किसान”। आपके आशीष व स्नेह से किसान व नौजवान रूपी द्वारिकाधीश का भक्त विधानसभा जायेगा और वहां भी अपने आराध्य किसानों व नौजवानों के हितों की लडाई लड़ेगा।इस मौके पर गणेश पाण्डेय, अखिलेश वर्मा, राजेश सिंह, हर्षित सिंह, राहुल यादव, महेन्द्र चौहान, सुरेन्द्र सिंह, अब्दुल साबिर, राम यादव, विजय त्रिपाठी समेत दर्जनों समर्थक मौजूद रहे।

रिपोर्ट-सिम्मी भाटिया,बस्ती

About Samar Saleel

Check Also

रायबरेली के लिए जो सोनिया गांधी नहीं कर पाईं, जाते-जाते उसे पूरा कर गए अरुण जेटली

पूर्व वित्त मंत्री अरुण जेटली के पार्थिव शरीर को रविवार को पूरे राजकीय सम्मान के ...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *