धार्मिक मान्यताओं के अनुसार मनाएं Hindu New Year

धार्मिक मान्यताओं के अनुसार Hindu New Year 18 मार्च से शुरू हो रहा है। इसी माह 18 तारीख को गुड़ी पड़वा भी पड़ रहा है। भारतीय संस्कृति के अनुसार इस दिन से नया साल शुरू होता है। इसे चैत्र शुक्ल प्रतिपदा भी कहा जाता है। कई भारतीय धर्मग्रंथों में इस दिन का बहुत महत्व है। इसी दिन बृह्माजी ने सृष्टि रूपी चक्र घुमाया था। इससे ग्रहों और नक्षत्रों में परिवर्तन शुरू हुआ था। जिस दिन भगवान ने ऐसा किया था। वह दिन तिथि चैत्र शुक्ल प्रतिपदा और वार रविवार था।

  • सबसे बड़ी बात है कि इस बार भी चैत्र शुक्ल प्रतिपदा को रविवार ही है।
  • इस कारण इस नववर्ष को बहुत ही शुभ बताया जा रहा है।

Hindu New Year मनाने के पीछे तर्क

इस दिन हिंदू नववर्ष मनाए जाने के पीछे यह तर्क दिया जाता है कि नई फसल घर में आने का समय भी यही है। यह नवजीवन का समय है।

  • इस समय में पेड़-पौधों में भी नव बसंत का आता है।
  • फूल और नई कलियां इसी समय आना शुरू होती हैं।

धार्मिक मान्यता

हिंदू धर्म के अनुसार यह इसी दिन भगवान विष्णु का प्रथम अवतार हुआ था। नवरात्र की शुरुअात इसी दिन से होती है।

  • वैष्णव दर्शन में चैत्र मास भगवान नारायण का ही रूप है।
  • चैत्र शुक्ल प्रतिपदा तिथि के ठीक नवें दिन भगवान श्रीराम का जन्म हुआ था।
  • आर्यसमाज की स्थापना भी इसी दिन हुई थी।

About Samar Saleel

Check Also

कृष्ण की कुंडली में छिपे सारे राज…

श्रीकृष्ण का जन्म जिस घड़ी में हुआ उसी क्षण स्पष्ट हो गया था कि अब ...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *