वारियर बनो,वरियर नहीं : Piyush Goyal

बता दें दिल्ली की कान्वेंट स्कूल में पढ़ने वाली एक छात्रा 8 मार्च को घर छोड़कर भाग गयी थी।
जिसके बाद वो भोपाल रेलवे स्टेशन पर बचाई गयी। इसके बाद रेल मंत्री Piyush Goyal ने उसे प्रधानमंत्री की किताब दी और एग्जाम को जिंदगी में आगे बढ़ने की सीख दी।

Piyush Goyal ने किया ट्वीट

रेल मंत्री पीयूष गोयल ने ट्वीट कर कहा, ‘नई दिल्ली के एनायस जोसमॉन से मिला, जो परीक्षा के दबाव की वजह से अपने घर से भाग गई थी और उसे ठीक समय पर रेलवे ने बचाया और उसे उसके परिवार से मिलाया. उसे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा लिखी पुस्तक ‘एग्जाम वारियर्स’ भी दी है और उससे कहा कि एग्जाम वारियर बनो, वरीयर (चिंता करने वाला) नहीं.’

क्या है मामला

दिल्ली के एक कॉन्वेंट स्कूल में पढ़ने वाली 9वीं क्लास में पढ़ने वाली 14 साल की छात्रा एनायस जोसमॉन गणित में कमज़ोर थी जिस वजह से गणित की परीक्षा में फेल हो गयी थी। इस वजह से वो बीते 8 मार्च को घर से निकल गई।
वह घर से जाने के बाद चेन्नई जाने के लिए निजामुद्दीन रेलवे स्टेशन से तमिलनाडु एक्सप्रेस पर सवार हो गई थी।

एग्जाम वारियर्स

  • लड़की की मां इवोन पीटर्स ने बताया कि गणित में पास अंक नहीं ला पाने से वो उदास थी।
  • शनिवार को एनायस को भोपाल रेलवे स्टेशन से बचाया गया।
  • शनिवार को अनायस रेल मंत्री पीयूष गोयल से मिलने गईं थी, जहां उन्होंने उसे प्रधानमंत्री द्वारा लिखी गई पुस्तक ‘एग्जाम वारियर्स’ गिफ्ट किया।
  • पीएम मोदी की यह पुस्तक परीक्षा के दबाव से निपटने के उपायों पर आधारित है।

यह थी वजह

दाई का काम करने वाली इवोन पीटर्स ने बताया कि उसकी बेटी गणित में अच्छी नहीं है और वह अपनी पिछली परीक्षा में भी अच्छा प्रदर्शन नहीं कर पाई थी।

पीटर्स ने कहा,‘ स्कूल कोई परवाह नहीं करते. उन्होंने हमसे बात करने से मना कर दिया। काश मैं इस बारे में मंत्री को बता पाती। यह बहुत बड़ी समस्या है, जो छात्रों को प्रभावित करती है.’

About Samar Saleel

Check Also

पूर्व वित्त मंत्री अरुण जेटली की तबीयत बेहद नाजुक, दिया जा रहा है ECMO और IABP सपोर्ट

लंबे समय से बीमार चल रहे पूर्व वित्त मंत्री और बीजेपी के वरिष्ठ नेता अरुण ...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *