Breaking News

क्रिकेट के मैदान पर बने 10 अनोखे रिकॉर्ड

क्रिकेट की दुनिया में कई बड़े-बड़े रिकॉर्ड बने हैं।कुछ ऐसे रिकॉर्ड भी बने जो काफी चौकाने वाले थे।आज हम आपको इस लोकप्रिय खेल से जुड़े खीच अनोखे रिकॉर्ड से रूबरू करवायेंगे।

60 ओवर का मैच:

1983 के विश्व कप में मैच में 60 ओवर कामच था,जिसे भारतीय टीम नव जीता। इसके बाद वर्ष 2011 के विश्व कप में मुकाबला जोकि 50 ओवर का था इसे भी भारतीय क्रिकेट टीम ने जीता। इसके बाद 2007 में भारत ने पहला टी-20 विश्व कप जीता।यह एक मात्र ऐसी टीम है जिसने 60, 50 और 290 ओवर के मैच में जीत का स्वाद चखा।

10 दिन का मैच:

1939 में इंग्लैंड और साउथ अफ्रीका के बीच खेला गया टेस्‍ट मैच भी अनोखे रिकॉर्ड में शामिल है। यह पांचवां टेस्‍ट पूरे 10 दिनों तक चला था। खास बात यह रही कि 10 दिनों तक चले इस टेस्ट मैच में कोई रिजल्‍ट नहीं निकला था।इस मैच में इंग्लैंड के सामने 696 रन का लक्ष्य था,जिसका पीछा करते हुए इंग्लैंड टीम नौवे दिन 5 विकेट खोकर 654 रन के स्कोर पर थी। लेकिन इंग्लैंड टीम वापसी के शिप पकड़ने के कारण मैच बीच में ही अधूरा छोड़ना पड़ा।

मलिंगा की हैट्रिक:

मलिंगा ने विश्व कप के दौरान दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ गेंदबाज़ी करते हुए एक के बाद एक 4 विकेट लिए। इस मैच में मलिंगा ने शॉन पोलाक ,एंड्रू हॉल, जैकुइस कालिस और मखाया न्टीनी जैसे दिग्गज बल्‍लेबाज को हाथों आउट किया था।

11 का योग:

2011 में केप टाउन में साउथ अफ्रीका और ऑस्ट्रेलिया के बीच खेले गए मैच में एक अद्भुत संयोग देखने को मिला। यह मैच  11 नवंबर, 2011 को 11 बजकर 11 मिनट पर शुरू हुआ। इसमें साउथ अफ्रीका को जीतने के लिए 111 रनों का लक्ष्य मिला।

रन के बदले मिला किस:

भारतीय खिलाड़ी अब्बास अली बेग ऐसे क्रिकेटर थे, जिन्हें टेस्ट मैच के दौरान मैदान पर एक युवती ने किस किया। 1960 में जब वह ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ टेस्ट में हाफ सेंचुरी के करीब थे तभी यह अजीबोगरीब वाकया हुआ।

जन्मदिन पर हैट्रिक:

गेंदबाज पीटर सिडल ने अपने 26वें जन्मदिन पर इंग्लैंड के खिलाफ ब्रिसबेन में 25 दिसंबर, 2010 को टेस्ट क्रिकेट में 38वीं हैट्रिक लगाई थी।

शतक के बाद भी मिली हार:

2011 में श्रीलंकाई टीम के मध्यक्रम के बल्लेबाज महेला जयवर्धने ने 103 रनों की शतकीय पारी खेली। लेकिन गौतम गंभीर और महेन्द्र सिंह धोनी की शानदार पारी की बदौलत टीम इंडिया ने इस मैच जीत हासिल की। विश्व कप फाइनल के इतिहास में यह पहला मौका था जब शतक बनाने के बावजूद कोई टीम हारी हो।

पहली गेंद पर छक्का:

वेस्‍टइंडीज के तूफानी गेंदबाज/बल्लेबाज क्रिस गेल पहले ऐसे बल्‍ले बाज हैं जो 1877 से शुरू हुए टेस्‍ट मैच में पहली बार टेस्‍ट मैच की पहली गेंद पर छक्‍का लगा पाए।वर्ष 2012 में बांग्लादेश के खिलाफ मैच की पहली गेंद पर  उन्होंने छक्का जड़ा था।

जन्म की तारीख बनी रिकॉर्ड:

इंग्लैंड के विकेटकीपर/बल्लेबाज एलेक स्टीवर्ट का जन्म 8-4-63 को हुआ था, और सबसे खास बात यह है कि उन्होंने टेस्ट मैचों में कुल इतने ही 8463 रन बनाए।

डबल सेंचुरी:

पाकिस्तानी गेंदबाज वसीम अकरम ने 1996 में जिंबाब्वे के खिलाफ नंबर आठ पर बल्लेबाजी करते हुए 257 रन की पारी खेल कर यह रिकॉर्ड अपने नाम किया।

About Samar Saleel

Check Also

बैन के बाद जिम्बाब्वे को करना पड़ रहा पैसो की किल्लत का सामना…

आईसीसी के बैन के बाद जिम्बाब्वे क्रिकेट हर तरह से कठिन में फंस गया है। बैन के बाद ...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *