Breaking News

गायत्री का गनर गिरफ्तार

लखनऊ- समूहिक दुराचार के आरोप मे पुलिस से आँख मिचौली खेल रहे मंत्री गायत्री प्रसाद प्रजापति समेत छह लोगों मे से गायत्री प्रजाति के गनर को पुलिस ने जानकीपुरम से गिरफ्तार करने का दावा कर रही है ।गिरफ्तार गनर को मंगलवार को कोर्ट में पेश किया जायेगा। सुत्रों के अनुसार कहा जा रहा है कि गायत्री को पुलिस कभी भी गिर तार कर सकती हैं। क्योंकि आज सुबह ही गायत्री प्रसाद प्रजापति को सुप्रीम कोर्ट से बड़ा झटका लगा है।
बता दें कि सामूहिक दुष्कर्म व अन्य मामलों में अपने सात साथियों के साथ नामजद गायत्री प्रसाद प्रजापति की गिर तारी पर रोक से सुप्रीम कोर्ट ने इंकार कर दिया।  ज्ञात हो कि सुप्रीम कोर्ट में गायत्री प्रसाद ने गिर तारी से बचने के लिए याचिका दायर की थी। गायत्री प्रजापति ने अपनी गिर ़तारी पर रोक लगाने के लिए सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर की थी। सुप्रीम कोर्ट गायत्री प्रजापति व अन्य के ख़िलाफ एफ़आइआर दर्ज करने के अपने आदेश मे बदलाव करने से मना किया। प्रजापति को राहत नही। सुप्रीम कोर्ट ने कहा ग़ैर ज़मानती आदेश को निचली अदालत मे चुनौती दे। गायत्री की याचिका में गिर तारी से रोक लगाने का अनुरोध किया गया थाए लेकिन सुप्रीम कोर्ट ने आज गिर तारी पर रोक लगाने से सुप्रीम कोर्ट ने इन्कार कर दिया है। शीर्ष कोर्ट ने उनको निराश किया। यूपी कैबिनेट में मंत्री और रेप के आरोपी गायत्री प्रजापति की गिर तारी को लेकर सुप्रीम कोर्ट में आज सुनवाई थी गायत्री प्रजापति ने सुप्रीम कोर्ट में याचिका देकर एफआईआर दर्ज करवाने के आदेश को वापस लेने और गिर तारी पर रोक लगने की याचिका दायर की। मंत्री काफी समय से फरार हैं। सूत्रों के मुताबिक गायत्री कोर्ट में सरेंडर भी कर सकते हैं। अगर वो ऐसा करते हैं तो पुलिस ने कोर्ट के बाहर ही गिर तार करने की तैयारी कर ली कर रखी है। पुलिस गायत्री के खिलाफ  लुकआउट नोटिस कर चुकी है जिसके बाद एअरपोर्टए रेलवे स्टेशनों सहित तमाम मार्गों पर पुलिस नजर रख रही है। गायत्री प्रजापति पर एक महिला के साथ बलात्कार और उसकी बेटी के यौन शोषण का आरोप है।

About Samar Saleel

Check Also

फ्लाईओवर के उद्घाटन में बोले केजरीवाल- हम अपना काम करते हैं इश्तहार नहीं देते

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने मंगलवार को 2.85 किलोमीटर लंबे फ्लाईओवर का उद्घाटन किया। ...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *