Breaking News

नकलविहीन बोर्ड परीक्षाएं सम्पन्न कराने के लिए प्रशासन कटिबद्ध: अजयदीप

बहराइच. जिलाधिकारी अजयदीप सिंह ने माध्यमिक शिक्षा परिषद द्वारा आयोजित परीक्षाओं के लिए जनपद के लिए निर्धारित परीक्षा केन्द्रों के व्यवस्थापकों को निर्देश दिया है कि प्रत्येक परीक्षा केन्द्र पर पर्याप्त फर्नीचर, प्रकाश, पानी एवं पार्किंग के माकूल प्रबन्ध किये जायें।साथ ही यह भी सुनिश्चित किया जाए कि प्रत्येक परीक्षा केन्द्र पर परीक्षार्थियों को साफ-सुथरा माहौल मिले। श्री सिंह ने कहा कि शुचितापूर्ण वातावरण में बोर्ड परीक्षा सम्पन्न कराना जिला प्रशासन की शीर्ष प्राथमिकता है। परीक्षा केन्द्रों पर नकल होने की शिकायत मिलने पर केन्द्र व्यवस्थापकों की जिम्मेदारी तय करते हुए सभी सम्बन्धित के विरूद्ध अनिवार्य रूप से दण्डात्मक कार्यवाही की जायेगी। 

जनपद में नकलविहीन बोर्ड परीक्षा आयोजित कराये जाने के उद्देश्य बुद्धवार की देरशाम विकास भवन में आयोजित बैठक को सम्बोधित करते हुए जिलाधिकारी श्री सिंह ने कहा कि सभी केन्द्र व्यवस्थापकों की जिम्मेदारी है कि प्रत्येक परीक्षार्थी को सभी मूलभूत सुविधाएं हार हाल में मयस्सर होनी चाहिएं। परीक्षा के दौरान नकल पर प्रभावी अंकुश लगाये जाने के उद्देश्य से जिलाधिकारी ने केन्द्र व्यवस्थापकों को निर्देश दिया कि सभी छात्रों का सिटिंग प्लान त्रुटि रहित तरीके से तैयार किया जाय और उसी के अनुसार दो छात्रों के बीच उचित दूरी रखते हुए उन्हें बैठाने का प्रबन्ध भी किया जाय। जिलाधिकारी श्री सिंह ने कहा कि परीक्षा केन्द्रों के आकस्मिक निरीक्षण के लिये जाने वाले अधिकारियों को इस निर्देशित किया जायेगा कि परीक्षा केन्द्र निरीक्षण के दौरान सिटिंग प्लान का भी जायज़ा अवश्य लें।

जिलाधिकारी ने सभी केन्द्र व्यवस्थापकों को निर्देश दिया है कि प्रत्येक परीक्षा केन्द्र पर जनरेटर की व्यवस्था होनी चाहिए। उन्होंने कहा कि ऐसे केन्द्र जहाॅ पर निजी जनरेटर उपलब्ध नहीं वह किराये पर जनरेटर की व्यवस्था करें। जिलाधिकारी ने सभी केन्द्र व्यवस्थापकों को यह भी निर्देश दिया कि यदि परीक्षा केन्द्र की बाउण्ड्रीवाल क्षतिग्रस्त है तो उसे इस स्तर तक दुरूस्त करा लिया जाय कि उस स्थान का उपयोग नकल के लिए न हो सके। सभी केन्द्र व्यवस्थापकों को इस बात की भी ताकीद की गयी कि छात्र-छात्राओं की तलाशी पूरी संजीदगी के साथ की जाय। छात्राओं की तलाशी का कार्य मात्र महिला स्टाफ के जिम्मे ही रखा जाए।

जिलाधिकारी ने यह भी कहा कि जनपद में शान्तिपूर्णढंग से नकलविहीन बोर्ड परीक्षाएं सम्पन्न कराने के लिए कई स्तरों पर उड़ाका दल बनाये जायेंगे। उन्होंने कहा कि वह स्वयं भी पुलिस अधीक्षक व अन्य अधिकारियों के साथ परीक्षा केन्द्रों का आकस्मिक तौर पर भ्रमण करते रहेंगे। बोर्ड परीक्षा की अवधि के दौरान परीक्षा की शुचिता को बनाये रखने के लिए सचल दलों को पूरी तरह से सक्रिय रखा जायेगा। श्री सिंह ने सभी केन्द्र व्यवस्थापकों को सचेत किया कि किसी भी परीक्षा केन्द्र पर नकल होने की शिकायत नहीं मिलनी चाहिए। जिलाधिकारी ने जिला विद्यालय निरीक्षक को निर्देश दिया कि उत्तर पुस्तिकाओं को सुरक्षित कलेक्शन सेन्टर तक पहुंचाने के लिए पुख्ता प्रबन्ध किये जाय साथ ही उस प्रकार का मैकेनिज़्म भी डेवलप किया जाय जिससे प्रत्येक परीक्षा केन्द्रों से उचित समय के अन्दर कलेक्शन सेन्टर तक उत्तर पुस्तिकाएं प्राप्त हो जायें। बैठक के दौरान जिलाधिकारी ने केन्द्र व्यवस्थापकों से नकलविहीन परीक्षा के लिए की गयी तैयारियों का फीडबैक भी प्राप्त किया और आवश्यक दिशा निर्देश दिये।

पुलिस अधीक्षक डा. मनोज कुमार ने बताया कि जिले में शान्तिपूर्ण ढ़ंग से बोर्ड परीक्षा सम्पन्न कराने के लिए सुरक्षा व्यवस्था के कड़े प्रबन्ध किये जा रहे हैं। प्रत्येक परीक्षा केन्द्र पर दो सिपाहियों की तैनाती की जा रही है जबकि संवेदनशील परीक्षा केन्द्रों पर इंस्पेक्टर भी तैनात रहेंगे। परीक्षा के दौरान छात्राओं की सुरक्षा पर विशेष ध्यान दिया जायेगा तथा यह भी सुनिश्चित कराया जायेगा कि किसी भी दशा में प्रश्नपत्रों की शुचिता पर आॅच न आये। डा. कुमार ने सभी केन्द्र व्यवस्थापकों को निर्देश दिया कि अपने-अपने क्षेत्र के सीओ व एसओ के का मोबाइल नम्बर अपने पास अवश्य रखें ताकि आवश्यकता पड़ने पर तत्काल सहयोग प्राप्त कर सके। उन्होंने यह भी कहा कि किसी भी दशा में किसी परीक्षार्थी को परीक्षा कक्ष में इलेक्ट्रानिक गैजेट ले जाने की अनुमति न दी जाय।

बैठक के दौरान जिला विद्यालय निरीक्षक राजेन्द्र प्रसाद पाण्डेय ने बताया कि जनपद में नकलविहीन शान्तिपूर्ण परीक्षा कराने के लिए 121 परीक्षा केन्द्र बनाये गये हैं। प्रत्येक 07-07 केन्द्रों के लिए सेक्टर मजिस्ट्रेटों की तैनाती की जायेगी। श्री पाण्डेय ने बताया कि माध्यमिक शिक्षा परिषद परीक्षा की वर्ष 2017 हाईस्कूल-इण्टरमीडिएट बोर्ड की परीक्षा में 66061 परीक्षार्थी सम्मिलित हो रहें है जिसमें 36213 बालक एवं 29848 बालिकाएं हैं। हाईस्कूल में संस्थागत से 36865 परीक्षार्थी है जिसमें 20754 बालक व 16111 बालिकाएं तथा व्यक्तिगत के 833 परीक्षार्थी हैं जिसमें 541 बालक व 292 बालिकाएं सम्मिलित हो रही हैं। इसी प्रकार इण्टरमीडिएट में संस्थागत से 26612 परीक्षार्थी है जिसमें 13921 बालक व 12691 बालिकाएं तथा व्यक्तिगत के 1751 परीक्षार्थी हैं जिसमें 997 बालक व 754 बालिकाएं सम्मिलित हो रही हैं।

इस अवसर पर मुख्य विकास अधिकारी राकेश कुमार, अपर जिलाधिकारी विद्या शंकर सिंह, अतिरिक्त मजिस्टेªट पंकज कुमार, जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी डा. अमरकान्त सिंह सहित विभिन्न कालेजों के प्रिन्सिपल/केन्द्र व्यवस्थापक मौजूद रहे।

रिपोर्ट- फराज अंसारी

About Samar Saleel

Check Also

शीला दीक्षित के बिना नही की जा सकती थी फ्लाई ओवर व मेट्रो की उम्मीद : नटवर सिंह

राजधानी दिल्ली की सबसे लंबे समय तक सीएम शीला दीक्षित का रविवार को निगमबोध घाट पर अंतिम ...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *