Breaking News

शासन द्वारा निर्धारित लक्ष्य को 31 मार्च तक पूरा करायें: अजय दीप सिंह

बहराइच. कर-करेत्तर और विकास कार्यो की समीक्षा के लिए कलेक्ट्रेट सभागार में आयोजित बैठक को सम्बोधित करते हुए जिलाधिकारी अजय दीप सिंह ने उपस्थित अधिकारियों को निर्देश दिया कि शासन द्वारा निर्धारित लक्ष्य को किसी भी दशा में 31 मार्च तक पूरा कराना सुनिश्चित करें।

उन्होंने मुख्य विकास अधिकारी राकेश कुमार को निर्देश दिया कि जिन कार्यों की प्रगति अपेक्षा के अनुसार नहीं है उसकी डे-बाई-डे समीक्षा करें और ऐसे कार्यों में तत्काल अपेक्षित प्रगति लायी जाय। साथ हीं विकास कार्यों में शासन द्वारा निर्धारित मानक व गुणवत्ता पर विशेष ध्यान दिया जाय। बैठक के दौरान श्रम प्रवर्तन अधिकारी बहराइच के अनुपस्थिति पर रोष व्यक्त करते हुए जिलाधिकारी ने कार्यवाही के निर्देश भी दिये।

जिलाधिकारी श्री सिंह ने कर-करेत्तर से सम्बन्धित विभागों, स्टाम्प, आबकारी, मनोरंजन कर, विद्युत, नगर निकाय आदि के वसूली प्रगति की समीक्षा करते हुए सम्बन्धित अधिकारियों को निर्देश दिया कि जिन विभागों की वसूली प्रगति निर्धारित मानक से कम है वे विशेष प्रयास कर 31 मार्च तक निर्धारित लक्ष्य की शत-प्रतिशत वसूली सुनिश्चित करें। उन्होंने यह भी निर्देश दिया कि बकाया की वसूली प्रभावी ढ़ंग से की जाय। साथ हीं परिवर्तन कार्य को भी प्रभावी ढंग से संचालित करें। जिससे शासन द्वारा निर्धारित की गयी लक्ष्य की शत-प्रतिशत पूर्ति की जा सके।

श्री सिंह ने विकास तथा कल्याणकारी कार्यक्रमों एवं योजनाओं अन्तर्गत राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा अधिनियम, राजीव गांधी ग्रामीण विद्युतीकरण, राज्य क्षतिग्रस्त ट्रांसफार्मरों का प्रतिष्ठापन, राज्य पोषण मिशन, पौष्टिक आहार योजना, सर्व शिक्षा अभियान योजना, अपूर्ण विद्यालय भवनों को पूर्ण कराकर जनपयोगी बनाया जाना, सोलर फोटो वोल्टैइक पम्पों की स्थापना, पारदर्शी किसान योजना, राष्ट्रीय कृषि विकास योजना, जनेश्वर मिश्र ग्राम योजना, लक्ष्मी बाई कल्याण कोष, कन्या विद्याधन तथा राष्ट्रीय मा. शिक्षा अभियान की समीक्षा करते हुए जिला पूर्ति अधिकारी को निर्देश दिया कि राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा अधिनियम में आधार फीड़िंग कार्य मानक से कम है इसमें वृद्धि की जाय और खाद्य वितरण से सम्बन्धित शिकायतों के निराकरण के लिए कन्ट्रोल रूम की स्थापना करें।

राजीव गांधी ग्रामीण विद्युतीकरण की समीक्षा के दौरान अधि.अभि. विद्युत को निर्देश दिया गया कि विद्युतीकरण कराये गये मजरों व अवशेष मजरों की अलग-अलग सूची उपलब्ध करायें। साथ हीं विद्युतीकरण के लिए नामित संस्थाओं के साथ अलग से बैठक करायें। क्षतिग्रस्त ट्रांसफार्मरों की स्थापना के सम्बन्ध में निर्देश दिया गया कि 72 घण्टे में रिप्लेसमेन्ट की व्यवस्था सुनिश्चित करायें। सर्व शिक्षा अभियान की समीक्षा के दौरान जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी को निर्देश दिया गया कि ग्राम शिक्षा समितियों की बैठक नियमित रूप से करायें जिससे विद्यालयों में बच्चों की उपस्थिति बढ़ायी जा सके। राष्ट्रीय कृषि विकास योजना की समीक्षा के दौरान जिला उद्यान अधिकारी को निर्देश दिया कि साग-भाजी की खेती का व्यापक स्तर पर प्रचार-प्रसार करायें जिससे अधिक से अधिक किसान साग-भाजी की खेती की ओर प्रेरित हो सके।

बैठक के दौरान जिलाधिकारी श्री सिंह ने जिला विकलांग जन विकास अधिकारी को निर्देश दिया कि सीएमओ से समन्वय स्थापित कर जनपद में पोलियो ग्रस्त बच्चों को चिन्हित कर करेक्टिव सर्जरी कराना सुनिश्चित करें। मुख्य विकास अधिकारी को निर्देश दिया कि पेंशनर्स से सम्बन्धित विभागों और बैंक के साथ अलग से बैठक कर आधार लिंकेज कार्य में तेजी लायें। स्वच्छ भारत मिशन की समीक्षा के दौरान जिलाधिकारी ने डीपीआरओ को निर्देश दिया कि जिन 12 ग्रामों में शत-प्रतिशत शौचालय का निर्माण हो चुका है इन ग्रामों का सत्यापन कराकर तत्काल ओडीएफ श्रेणी में लायें। उन्होंने मुख्यमंत्री जल बचाओ अभियान की समीक्षा करते हुए खण्ड विकास अधिकारियों को अवशेष तालाबों के कार्य को पूर्ण कराये जाने का निर्देश दिया। समग्र ग्राम विकास योजना की समीक्षा के दौरान सम्बन्धित अधिकारियों को निर्देश दिया गया कि अवशेष कार्यों को तत्काल पूर्ण करायें। बैठक में कौशल विकास, आसरा योजना, पेयजल, लोहिया आवास, इन्दिरा आवास, राष्ट्रीय आजीविका मिशन आदि योजनाओं की भी समीक्षा कर सम्बन्धित अधिकारियों को आवश्यक दिशा निर्देश दिया।

इस अवसर पर मुख्य विकास अधिकारी राकेश कुमार, ज्वाइंट मजिस्ट्रेट महेन्द्र सिंह तवंर, मुख्य चिकित्साधिकारी डा. अरूण लाल, पीडी डीआरडीए रजत यादव, उप निदेशक कृषि अनिल कुमार सागर, जिला विकास अधिकारी वीरेन्द्र सिंह, मुख्य पशु चिकित्साधिकारी डा. बलवन्त सिंह, जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी डा. अमरकान्त सिंह, अल्पसंख्यक कल्याण अधिकारी बालेन्दु कुमार द्विवेदी, जिला अर्थ एवं संख्याधिकारी एसके बघेल, अधि.अभि. विद्युत आरिफ अहमद, सहित अन्य जिला स्तरीय अधिकारी खण्ड विकास अधिकारी मौजूद रहे।

About Samar Saleel

Check Also

शीला दीक्षित के बिना नही की जा सकती थी फ्लाई ओवर व मेट्रो की उम्मीद : नटवर सिंह

राजधानी दिल्ली की सबसे लंबे समय तक सीएम शीला दीक्षित का रविवार को निगमबोध घाट पर अंतिम ...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *