पत्नियों को छोड़ने वाले 45 NRI का वीजा रद्द

नई दिल्ली। सरकार ने अपनी पत्नियों को छोड़ने वाले 45 अनिवासी भारतीयों (एनआरआइ) NRI के पासपोर्ट रद्द कर दिए हैं। महिला एवं बाल विकास मंत्री मेनका गांधी ने यह जानकारी दी। गांधी ने बताया कि एनआरआइ शादी के मामलों को देखने के लिए गठित एकीकृत नोडल एजेंसी पत्नियों को छोड़ने वाले अनिवासी पतियों के खिलाफ लुक-आउट सर्कुलर जारी कर रही है। इस नोडल एजेंसी के अध्यक्ष महिला एवं बाल विकास मंत्रालय में सचिव राकेश श्रीवास्तव हैं।

मारुति ने लांच किया वेगानार का फेसलिफ्ट वर्जन

केंद्रीय मंत्री ने कहा कि सरकार ने NRI एनआरआइ पतियों द्वारा छोड़ी गई महिलाओं को न्याय दिलाने के लिए राज्यसभा में बिल पेश किया था। लेकिन अफसोस है कि बिल उच्च सदन में अटका ही रह गया। इस बिल के जरिए एनआरआइ शादी के पंजीकरण को अनिवार्य बनाने के साथ ही पासपोर्ट एक्ट, 1967 और अपराध दंड संहिता, 1973 में संशोधन का प्रावधान था। विदेश मंत्रालय, महिला एवं बाल विकास मंत्रालय, गृह मंत्रालय और कानून एवं न्याय मंत्रालय ने मिलकर यह बिल तैयार किया था।

 

About Samar Saleel

Check Also

लम्बे समय से बीमार चल रहे पूर्व वित्त मंत्री अरुण जेटली का 66 साल की उम्र में निधन

पूर्व वित्त मंत्री अरुण जेटली का शनिवार को दिल्ली के अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (AIIMS) ...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *