बर्तन कारीगरो ने MP Sharad Tripathi के खिलाफ खोला मोर्चा

लखनऊ। सांसद का प्रतीकात्मक शव यात्रा तक निकली जा चुकी हैं,संत कबीर नगर में पीतल बर्तन कारीगरों ने स्थानीय सांसद शरद त्रिपाठी के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है। कारीगरों ने बर्तन उद्योग के लिए केंद्र सरकार की चलाई जा रही क्लस्टर योजना में भाजपा सांसद शरद त्रिपाठी की दखलअंदाजी का विरोध किया।

सांसद शरद त्रिपाठी का प्रतीकात्मक शव यात्रा

कारीगरों ने रिश्तेदार को क्लस्टर योजना में मैनेजर बनाये जाने के खिलाफ सांसद शरद त्रिपाठी का प्रतीकात्मक शव यात्रा निकाला और सांसद के खिलाफ जमकर नारेबाजी तक जम कर की गयीं। बता दें कि जनपद का बखिरा कस्बा फूल और पीतल के बर्तनों के लिए काफी प्रसिद्द है। यहां के कारीगर बड़े पैमाने पर बर्तन बनाने का कारोबार करते हैं, लेकिन कुछ वर्षों से सरकार की उपेक्षा से यह फलता फूलता कारोबार दम तोड़ चुका हैं। बखिरा के कारीगर वर्षों से सरकार से इस कारोबार को चलाने के लिए आर्थिक व तकनीकी मदद मांगते रहे।

कारोबार को जिन्दा करने के लिए क्लस्टर योजना

केंद्र में बीजेपी की सरकार बनने पर स्थानीय भाजपा सांसद शरद त्रिपाठी की पहल और कारीगरों की मांग पर मंत्री स्मृति ईरानी ने पीतल और फूल के बर्तन बनाने के इस कारोबार को फिर से जिन्दा करने के लिए क्लस्टर योजना की घोषणा की और विशेष आर्थिक मदद देने का एलान किया। सांसद का विरोध कर रहे कारीगरों का आरोप है कि सांसद ने अपने प्रभाव का इस्तेमाल कर अपने एक रिश्तेदार को संस्था का अध्यक्ष बनावा दिया जिसको बर्तन व्यवसाय और व्यवसाइयों की समस्यायों की कोई जानकारी नही है।

सांसद के खिलाफ उनका आंदोलन जारी

कारीगरों का आरोप है कि क्लस्टर योजना के जरिये मिलने वाली धनराशि का सांसद बंदरबांट करना चाह रहे है। कारीगरों ने प्रबंधक को हटाने की मांग करते हुये कहा कि जब तक उनकी मांग नही मानी जाती सांसद के खिलाफ उनका आंदोलन जारी रहेगा।

About Samar Saleel

Check Also

इस बीमारी ने ली अरुण जेटली की जान

मनोहर पार्रिकर, सुषमा स्वराज के बाद अरुण जेटली का चले जाना भाजपा के लिए बहुत बड़ा ...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *