RBI ने खरीदे 5 अरब डालर

मुंबई। भारतीय रिजर्व बैंक RBI ने दीर्घकालीन विदेशी मुद्रा की अदला-बदली नीलामी के जरिये 5 अरब डालर की खरीद की। इस कदम का मकसद चुनावों से पहले बैंकिंग तंत्र में नकदी की स्थिति को बेहतर बनाना है। तीन साल की अवधि के लिये दीर्घकालीन डालर/रुपया अदला बदली व्यवस्था के तहत आरबीआई ने सफलतापूर्वक विदेशी मुद्रा विनिमय नीलामी प्रक्रिया पूरी की है। डालर- रुपये की अदला- बदली नीलामी के तहत बैंकों में 34,561 करोड़ रुपये की पूंजी डाली गई है। आरबीआई ने कहा कि उसे इस नीलामी के तहत 16.31 अरब डालर की बोलियां प्राप्त हुई जिसके लिये 776 पैसे (7.76 रुपये) का कट- आफ तय किया गया। केंद्रीय बैंक ने इसमें से 5.02 अरब डालर की बोली स्वीकार की है।

RBI  ने इस महीने की शुरूआत में

आरबीआई RBI ने इस महीने की शुरूआत में बैंकों से तीन साल के लिये डालर खरीद की घोषणा की थी और बदले में उन्हें रुपये की पेशकश की थी। यह नीलामी उसी घोषणा का हिस्सा है। इस अदला-बदली व्यवस्था से देश के विदेशी मुद्रा भंडार में उल्लेखनीय वृद्धि होगी। वहीं दूसरी तरफ वित्तीय प्रणाली में नकदी आएगी जिससे नकदी की समस्या दूर होगी जो अक्सर वित्त वर्ष की शुरूआत से पहले देखी जाती है। इससे आरबीआई को बैंकों में नकदी के प्रबंधन में मदद मिलेगी जबकि वहीं दूसरी तरफ बड़े पैमाने पर डालर प्रवाह की संभावना से होने वाले उतार- चढ़ाव से निपटने में भी मदद मिलेगी।

 

About Samar Saleel

Check Also

मारुति सुजुकी ने 40618 वैगनआर कारें रिकॉल कीं, फ्यूल पाइप में गड़बड़ी की आशंका

वाहन दिग्गज मारुति सुजुकी ने शुक्रवार को कहा कि वह 15 नवंबर, 2018 और 12 ...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *