Bharat Band : सभी राज्यों में सुरक्षा के कड़े इंतजाम

2 अप्रैल को हुए भारत बंद के बाद आज एक बार भी कई संगठनों ने जाति आधारित आरक्षण के खिलाफ Bharat Band का एलान किया है। ऐसी स्थिति में पुनः 2 अप्रैल के भांति कोई अप्रिय घटना न हो इसके लिए प्रशासन ने हाई अलर्ट जारी कर दिया है।

Bharat Band : हिंसा पर प्रशासन सख्त ,कई जगह धारा-144 लागू

2 अप्रैल को दलित संगठनों द्वारा भारत बंद के दौरान भड़की हिंसा के खिलाफ कुछ संगठनों ने आज 10 अप्रैल को फिर से भारत बंद का आह्वान किया है। ऐसी स्थिति में फिर से कोई हिंसक घटना न हो इसके लिए शासन-प्रशासन ने कमर कस ली है। संवेदनशील इलाकों में धारा-144 लागू करके बड़ी संख्या में सुरक्षा बल तैनात किए गए हैं। कई स्थानों पर इंटरनेट सेवाओं को स्थगित कर दिया गया है।

सोशल मीडिया पर पैनी नज़र, दोषियों पर होगी कार्यवाई

2 अप्रैल की भांति इस भारत बंद के दौरान सोशल मीडिया पर गलत या भड़काऊ संदेशो को रोकने के लिए भोपाल के पुलिस उपमहानिरीक्षक (डीआईजी) धर्मेंद्र चौधरी ने कहा कि पुलिस सोशल मीडिया के संदेशों पर विशेष ध्यान दे रही है। सोशल मीडिया पर नफरत भरे संदेशों को फैलाने वाले लोगों की खिलाफ धारा-188 के तहत कार्रवाई की जाएगी।

भिण्ड और मुरैना में कर्फ्यू

चंबल पुलिस रेंज के उपमहानिरीक्षक सुधीर लाड ने बताया कि भिण्ड में रात 9 अप्रैल की रात 9 बजे से 10 अप्रैल शाम 6 बजे तक कर्फ्यू लगाया गया है एवं यहां की इंटरनेट सेवाएं भी इस दौरान रोक दी गयीं हैं। २ अप्रैल को हुयी हिंसा में ४ लोगों की मौत हो गयी थी जिसके चलते इस बार यहां आरएएफ और एसएएफ की छह कंपनियां यहां तैनात कर दी गयीं हैं।

मुरैना के जिलाधिकारी भास्कर लाछाकार ने बताया कि बंद के मद्देनजर से शहर में दो अप्रैल से लगाये गए कर्फ्यू के बाद पिछले तीन दिन से सुबह 7 बजे से रात 9 बजे तक दी जा रही कर्फ्यू में ढील नहीं दी जायेगी और मंगलवार के दिन और रात में कफ्यू लागू रहेगा। जिले में इंटरनेट सेवाएं बाधित रहेंगी तथा सेना को अलर्ट पर रखा गया है।

उत्तर प्रदेश में भी हाई अलर्ट

यूपी के लखनऊ, मेरठ, हापुड़, मुजफ्फरनगर सहित कई शहरों में सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए गए हैं। हापुड़ और मेरठ को छावनी में बदल दिया गया है। दो अप्रैल के दिन यहां बड़े पैमाने पर हिंसा हुई थी। यहां इंटरनेट सेवाएं भी बाधित कर दी गई हैं।

गृह मंत्रालय ने जारी की एडवाइज़री,हिंसा पर नपेंगे डीएम-एसएसपी
  • गृह मंत्रालय के अधिकारी ने मीडिया को यह जानकारी दी कि सभी राज्यों को भारत बंद के संबंध में एडवाइजरी जारी कर दी गई है।
  • गृह मंत्रालय ने कहा कि अपने इलाके में होने वाली किसी भी हिंसा के लिए जिलाधिकारी और पुलिस अधीक्षक व्यक्तिगत रूप से जिम्मेदार होंगे।
  • मंत्रालय ने सभी राज्यों को एक परामर्श जारी किया है कि कुछ समूहों द्वारा सोशल मीडिया पर 10 अप्रैल को बुलाए गए भारत बंद के मद्देनजर आवश्यक एहतियाती कदम उठाए जाएं।

About Samar Saleel

Check Also

पूर्व सांसदों को एक हफ्ते में सरकारी बंगला खाली करने का निर्देश, तीन दिन में कटेगा बिजली-पानी का कनेक्शन

17वीं लोकसभा गठन के बाद अब जल्द ही पूर्व सांसदों को एक हफ्ते में सरकारी ...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *