Indigo : प्‍लेन में मच्‍छर की शिकायत पर यात्री को नीचे उतारने की होगी जांच

लखनऊ एयरपोर्ट पर Indigo प्‍लेन द्वारा एक यात्री को नीचे उतारने के मामले में सुरेश प्रभु ने जांच के आदेश दे दिए हैं। प्‍लेन में मच्‍छर की शिकायत पर यात्री को नीचे उतारने का यह मामला अब ज़ोर पकड़ता नज़र आ रहा है।

Indigo का क्या है ये मामला

लखनऊ एयरपोर्ट पर इंड‍िगो प्‍लेन द्वारा नारायण हृदयालय के डॉक्‍टर को नीचे उतारने वाले मामले को नागरिक उड्डयन मंत्री सुरेश प्रभु ने संज्ञान में ले ल‍िया है। उन्‍होंने इस मामले में जांच के आदेश द‍िए हैं। नारायण हृदयालय के डॉक्‍टर सौरभ राय का दावा है क‍ि उन्‍होंने प्‍लेन में मच्‍छर होने की श‍िकायत की तो उन्‍हें नीचे उतार द‍िया गया। इसी को लेकर आज नागरिक उड्डयन मंत्री सुरेश प्रभु ने एक ट्वीट किया है जिसमे जांच के आदेश के बारे में बताया गया है।

बतादें क‍ि कल डॉक्‍टर सौरभ राय इंडिगो की फ्लाइट से सुबह बेंगलुरु जा रहे थे। इस दौरान प्‍लेन में काफी मच्‍छर थे। ऐसे में जब डॉक्‍टर सौरभ ने यात्रि‍यों के स्‍वास्‍थ्‍य ह‍ित में मच्‍छर वाली समस्‍या प्‍लेन मौजूद स्‍टाफ को बताई तो उन्‍होंने इस पर ध्‍यान नहीं द‍िया।

इस दौरान जब उन्‍होंने इसे गंभीरता से उठाया तो उन्‍हें प्‍लेन से जबरन नीचे उतार द‍िया। इसके बाद उन्‍हें बेंगलुरु में तीन ऑपरेशन लगे होने की वजह से दूसरे प्‍लेन से जाना पड़ा। ऐसे में इंड‍िगो द्वारा इस व्‍यवहार से डॉक्‍टर सौरभ काफी आहत हुए।

पीआरओ ने आरोपों को बताया गलत

इस पूरे मामले में इंडि‍गो की पीआरओ साक्षी बत्रा ने बताया क‍ि डॉक्‍टर सौरभ गलत आरोप लगा रहे हैं। उन्‍हें धक्‍के देकर नहीं उतारा गया है। यह सच है क‍ि उन्‍होंने प्‍लेन में मच्‍छर होने वाली समस्‍या को बताया था लेक‍िन जब तक उनकी समस्‍या बोर्ड सुनता तब वह काफी अक्रामक हो गए थे। वह अभद्र भाषा का इस्‍तेमाल करने लगे। प्‍लेन को नुकसान पंहुचाने के साथ ही उसे हाईजैक करने की धमकी दे रहे थे। दूसरे यात्रि‍यों को भी भड़का रहे थे। ऐसे में सेफ्टी प्रोटोकॉल को ध्‍यान में रखते हुए उन्‍हें नीचे उतारा गया था।

ऐसे में ये देखना होगा कि जांच के बाद क्या रिपोर्ट आती है और उसपर किस तरह की कार्यवाई की जाती है।

About Samar Saleel

Check Also

धारा 370 को लेकर दायर याचिका पर SC ने लगाई फटकार, CJI ने कहा- ‘ये किस तरह की याचिका है’

अनुच्छेद 370 को लेकर दायर की गई याचिका पर शुक्रवार को सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई ...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *