Revenue विभाग की लापरवाहियां बनती हैं जमीनी विवाद का कारण

Revenue विभाग की लापरवाही के कारण जमीनी विवाद को लेकर अमेठी जिले के फुरसतगंज थाना क्षेत्र के पूरे सूबेदार गांव में शुक्रवार सुबह भाई ने अपने भाई, भाभी और भतीजी को पेट्रोल डालकर जिंदा जला दिया। घटना की सूचना मिलते ही मौके पर पहुंची पुलिस ने उन्हें रायबरेली के जिला अस्पताल में भर्ती कराया। लेकिन इलाज के दौरान ही भाभी और भतीजी ने अस्पताल में दम तोड़ दिया। लेकिन भाई की हालत गंभीर बनी हुई है। पुलिस मामले की जांच करने में जुटी हुई है। सूत्रों के अनुसार इस घटना के पीछे राजस्व विभाग की सबसे बड़ी लापरवाही खुलकर सामने आई है। राजस्व विभाग के अधिकारी और कर्मचारी मामले पर चुप्पी साधे हुए हैं।

Revenue विभाग मामलों में पैसों की लेनदेन के लिए टालता है मामला, बात न बनने पर करता है गलत कार्रवाई

राजस्व विभाग के अधिकतर अधिकारियों और कर्मचारियों की लापरवाही का खामियाजा ​पीड़ितों को ही भुगतना पड़ता है। इसके एक नहीं बल्कि अनेक उदाहरण हैं। यह लापरवाही किसी दूसरी वजह से नहीं बल्कि ऊपरी कमाई के लिए की जाती है। पीड़ितों को एक समस्या के समाधान के लिए एक दर्जन बार दौड़ाया जाता है। जिससे पीड़ित अपने आप ही परेशान होकर सरेंडर कर देते हैं और पैसों के लेनदेन की बात करने को मजबूर हो जाते हैं। उसके बाद जो सही हो वह भी जो गलत हो वही भी आसानी से हो जाता है। लेकिन ज्यादातर मामलों में पैसे न देने पर अधिकारी और कर्मचारी काम भी नहीं करते और करते भी हैं तो गलत तरीके से करके और ज्यादा उलझा देते हैं। जिसके बाद मामले बिगड़ते हैं और उसका खा​मियाजा भुगतना पड़ता है। यही हाल इस मामले में भी हुआ।

पैमाइश की शिकायत पर नहीं किया गौर

जिला प्रशासन ने जमीनी विवाद की शिकायत लेकर आये पीड़ित की शिकायत को काफी समय से अनदेखा कर रहे थे। इसके साथ पीड़ितों को कई बार चक्कर लगवा चुके थे। जिसके कारण परेशान पीड़ितों का हाल यह हुआ कि आपस में भिड़ गये और न घर के रहे न घाट के।

पुलिस ने मामला दर्ज कर शुरू कर दी जांच

पुलिस ने मामले को गंभीरता से लेते हुए रिपोर्ट दर्ज कर ली है। पुलिस के अनुसार सगे भाई जब्बार और शफीक के बीच काफी दिनों से घर बनाने के लिए जमीन को लेकर आपसी विवाद चल रहा था। जिसके लिए प्रशासन को पैमाइश के लिए शिकायत दी थी। लेकिन पैमाइश में लापरवाही होने के कारण घटना घटित हो गई।

About Samar Saleel

Check Also

योगी सरकार का मंत्रिमंडल विस्तार को लेकर चर्चाए हुई तेज

लखनऊ। उत्तर प्रदेश की करीब ढाई वर्ष पुरानी योगी आदित्यनाथ सरकार का पहला मंत्रिमंडल विस्तार ...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *