Asaram : क्या है कहानी ,कैसे बनें आसाराम

Asaram आसाराम को आज नाबालिग से दुष्कर्म के चलते उम्रकैद की सजा सुनाई गई। लेकिन जिस आसाराम को आज सजा सुनाई गयी, वो एक झोपडी से चलकर आगे बढ़ा और देखते ही देखते न सिर्फ लाखों की संख्या में भक्त इकट्ठे किये ,बल्कि करोड़ों का मालिक भी बन गया।

जानें कौन हैं Asaram जिसने बनाया 10,000 करोड़ का साम्राज्‍य

आज करोड़ों के स्वामी आसाराम Asaram कहें या बलात्कारी आसाराम  कहें, पर शायद ही आप जानते रहें होंगे की आसाराम की जिंदगी एक झोपडी से आगे बढ़ी ,फिर वहां से धीरे-धीरे करोड़ों का स्वामी बना और अपने ही कृत्यों की वजह से आज ‘भक्तों के आसाराम से जेल में बैठा हुआ आसाराम ‘ पर जिंदगी आकर सिमट गयी है।

जानें किसने दिया इनको ‘आसाराम’ नाम

  • आसाराम का बचपन का नाम असुमल सिरुमलानी है।
  • इनका जन्म 1941 में पाकिस्तान में सिंध प्रांत के बरानी गांव में हुआ था।
  • 1947 में हुए बटवारे के बाद ये अहमदाबाद आ गए।
  • सिर्फ 10 वर्ष की आयु में इनके पिता का निधन हो गया था।
  • आसाराम ने सिर्फ चौथी कक्षा तक पढ़ाई की ,इसके बाद इन्होने कुछ दिनों तक नौकरी की और इसके पश्चात “आध्यात्मिक खोज” में हिमालय की ओर चले गए।
  • हिमालय यात्रा के दौरान गुरु लिलाशा से इन्हे ‘आसाराम’ नाम मिला।
अहमदाबाद से आध्यात्मिक सफर की हुई शुरुआत

आसाराम के गुरु ने इन्हे लोगों के मार्गदर्शन करने का आदेश दिया था। इसके बाद आसाराम अहमदाबाद आये और साबरमती तट पर ‘मोक्ष कुटीर‘ नाम से एक झोपड़ी स्थापित की। आसाराम ने अपने आध्यात्मिक सफर को आगे बढ़ाते हुए महज चार दशकों के अंदर देश-व‍िदेश में करीब 400 से अध‍िक आश्रम बना डाले।

बता दें क‍ि 2013 में दुष्‍कर्म के मामले में गिरफ्तारी के बाद मोटेरा इलाके में आसाराम के आश्रम से पुलिस को उनके संपत्‍त‍ि से जुड़े दस्‍तावेज म‍िले थे जिसके जांच से 77 वर्षीय आसाराम के लगभग 10,000 करोड़ रुपये की संपत्ति बनाने की बात सामने आयी।

पिता सहित बेटे पर भी हैं गंभीर आरोप

आसाराम का विवाह लक्ष्मी देवी से हुआ था। जिनसे इन्‍हें दो बच्‍चे नारायण साईं और बेटी भारती हुए। इनके बेटे नारायण साई भी आज जेल की सलाखों के पीछे बंद हैं।

आसाराम के परेशानियों का सिलसिला तब शुरू हुआ जब मोटेरा इलाके में स्‍ि‍थ‍त आश्रम के गुरुकुल में रहने वाले दो चचेरे भाई-दीपेश और अभिषेक वाघेला नदी  के किनारे मृत पाए गए थे। मृत बच्‍चों के माता-पिता ने आरोप लगाया था क‍ि उनके बच्‍चों को आश्रम में होने वाले काले जादू की वजह से मारे गए  हैं। जिसके बाद पुल‍िस ने इन्‍हें गिरफ्तार कर ल‍िया था।

इसके बाद 2013 में यह राजस्थान में नाबालिग के दुष्‍कर्म के लिए आसाराम चर्चा में आए। दरअसल सूरत में दो बहनों ने आसाराम और उनके बेटे नारायण साईं पर कथित यौन शोषण के आरोप लगाए थे। जिसके बाद सूरत पुलिस ने अक्टूबर, 2013 को इस मामले को पंजीकृत किया।

  • इसके अलावा इन पर सूरत और अहमदाबाद में आश्रम के लिए जमीन पर कब्जा  करने का आरोप भी लगाया गया था।
  • आसाराम और उनके बेटे के खिलाफ दुष्‍कर्म के मामलों में गवाहों को धमकी देने और हमला कराने का आरोप भी लगा था।

About Samar Saleel

Check Also

फोन में ओवरहीटिंग की प्रॉब्लम से यदि आप भी है परेशान तो ट्राय करे यह टिप

मेरे फोन में ओवरहीटिंग की प्रॉब्लम है। बात करते वक्त तो ज्यादा ही गरम हो जाता ...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *