रिलायंस इंडस्ट्रीज भारत में काम करने के लिए सबसे अच्छा समूह : Linkedin

मुंबई। प्रोफेशनल्स के लिए ऑनलाइन सोशल नेटवर्क प्लेटफॉर्म लिंक्डइन (Linkedin) ने अपनी नई रिपोर्ट ‘टॉप कंपनीज 2019 व्हेयर इंडिया वॉन्ट्स टू वर्क’ (वह कंपनियां, जिनमें भारतीय काम करना चाहते हैं) जारी की है। जिसमें उसने खुलासा किया कि रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड (RIL) एकमात्र ऐसी भारतीय कंपनी है जो कि टॉप 10 की सूची में अपना नाम दर्ज करवाने में सफल रही है। लिंक्डइन एडिटर्स (इंडिया) द्वारा बुधवार को प्रकाशित रिपोर्ट के अनुसार, देश के सबसे बड़े नियोक्ताओं में से एक आरआईएल भारत में 29,500लोगों को रोजगार प्रदान करती है।

2019 लिंक्डइन टॉप कंपनियों की सूची में 25 कंपनियां

मुकेश अंबानी के नेतृत्व में आरआईएल को लिंक्डइन रिपोर्ट में नाम दर्ज करवाने का मौका मिला है। 2019 लिंक्डइन टॉप कंपनियों की सूची में उन 25 कंपनियों के बारे में बताया गया है, जहां भारतीय काम करना चाहते हैं – और उनमें काम करते रहना चाहते हैं, जिनमें वे वर्तमान में काम कर रहे हैं। पोर्टल का कहना है कि हर साल उनके एडीटर्स और डेटा साइंटिस्ट्स ने लिंक्डइन के सदस्यों द्वारा दुनिया भर की कंपनियों को सामने लाने के लिए अरबों क्लिक्स का अध्ययन किया है। जो कि नौकरीपेशा लोगों का सबसे अधिक ध्यान आकर्षित कर रहे हैं और फिर उस प्रतिभा पर भरोसा कर रहे हैं।

रिलायंस इंडस्ट्रीज चौबीसों घंटे सहायता के लिए सर्वश्रेष्ठ

रिपोर्ट के अनुसार रिलायंस रिटेल वेंचर्स और रिलायंस जियो की होल्डिंग कंपनी रिलायंस इंडस्ट्रीज चौबीसों घंटे सहायता के लिए सर्वश्रेष्ठ है। रिपोर्ट के अनुसार ‘‘कर्मचारियों और उनके परिवार के सदस्यों को संकट के समय में 24&7 सहायता प्राप्त होती है जैसे कि मेडिकल इमरजेंसी, सड़क दुर्घटनाएं और आग आदि लगने के मामले में। उनको तेजी से और हर तरह से मदद प्रदान की जाती है।’’रिपोर्ट में कहा गया है कि ऊर्जा सामग्री, खुदरा और प्रौद्योगिकी कंपनी आरआईएल जल्द ही ई-कॉमर्स बिजनेस शुरू कर सकती है। लिंक्डइन ने चार मेल पिलर्स में भारत के सदस्यों के अज्ञात कामों का विश्लेषण किया है। जिनमें कंपनी में रुचि, कंपनी के कर्मचारियों के साथ जुड़ाव एवं सहभागिता, नौकरी की मांग और कर्मचारी साथ बनाए रखने का रूझान शामिल हैं।

सूची में शामिल होने की पात्रता

आरआईएल के अलावा, 2019 की टॉप कंपनियों की सूची में शामिल अन्य कंपनियां फ्लिपकार्ट (वॉलमार्ट), अमेजन, ओयो, वन97 कम्युनिकेशंस, ऊबर, स्विगी, टाटा कंसल्टेंसी सर्विसेज, जोमैटो, अल्फाबेट, ईवाई, एडोब, बोस्टन कंसल्टिंग ग्रुप, यस बैंक, आईबीएम, डेमलर एजी, फ्रैशवर्क्स, एक्सेंचर, ओला, आईसीआईसीआई बैंक, पीडब्ल्यूसी इंडिया, केपीएमजी इंडिया, एलएंडटी, ओरेकल और क्वालकॉम शामिल हैं। सभी शीर्ष 25 कंपनियों में, केवल आरआईएल भारत का एकमात्र पुरानी कंपनी है। शेष अधिकांश युवा कंपनियां हैं। रिपोर्ट के अनुसार इस सूची में शामिल होने की पात्रता हासिल करने के लिए कंपनियों के पास 1 फरवरी, 2018 तक कम से कम 500 कर्मचारी होने चाहिए और 12 महीनों में समान या पॉजिटिव कर्मचारी ग्रोथ होनी चाहिए।

About Samar Saleel

Check Also

मारुति सुजुकी ने 40618 वैगनआर कारें रिकॉल कीं, फ्यूल पाइप में गड़बड़ी की आशंका

वाहन दिग्गज मारुति सुजुकी ने शुक्रवार को कहा कि वह 15 नवंबर, 2018 और 12 ...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *