भाजपा का संकल्प पत्र झूठ और फरेब की गठरी : अनिल दुबे

लखनऊ। राष्ट्रीय लोकदल के राष्ट्रीय प्रवक्ता अनिल दुबे ने भाजपा के संकल्प पत्र को झूठ और फरेब की गठरी बताते हुये कहा कि भारतीय जनता पार्टी ने अपने संकल्प पत्र के माध्यम से पुनः एक बार नई बोतल में पुरानी शराब भरकर देश की जनता को गुमराह करने का कुचक्र रचा है,जो अब चलने वाला नहीं है। भाजपा संकल्प पत्र में पहले से की गयी बातों को दोहराने का प्रयास कर रही है जिससे यह सिद्व हो गया है कि भाजपा सरकार अपने 5 वर्ष के कार्यकाल में पूरी तरह से फ्लाप रही है। भाजपा द्वारा जारी किये गये संकल्प पत्र में कही गयी बातों में देश की जनता अब आने वाली नहीं है कि क्योंकि काठ की हाण्डी एक बार ही चढा करती है बार बार नहीं।

2014 में किये गये एक भी वादें को पूरा नहीं

भाजपा के संकल्प पत्र पर अपनी प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुये श्री दुबे ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी ने 2014 में किये गये एक भी वादें को पूरा नहीं किया,ऐसे में देश की जनता का इनसे भरोसा उठ गया है। इनकी कथनी और करनी में जमीन आसमान का अन्तर है। उन्होंने तंज कसते हुये कहा कि मोदी जी अपने भाषणों और रैलियों में कहते रहते हैं कि हम तो फकीर है झोला उठायेंगे और चल देंगें। अबकी मोदी जी यह मंशा भी देश की जनता पूरी कर देगी।

संकल्प पत्र के बजाय 5 वर्ष के कार्यकाल पर श्वेत पत्र जारी

श्री दुबे ने कहा कि अच्छा होता कि भाजपा संकल्प पत्र के बजाय अपने 5 वर्ष के कार्यकाल पर श्वेत पत्र जारी करती और उसमें देश की जनता को यह बताती कि हर भारतीय के खाते में 15-15 लाख क्यों नहीं आये??..2 करोड नौजवानों को प्रतिवर्ष रोजगार क्यों नहीं दे पाये??.. स्वामीनाथ आयोग की सिफारिष लागू क्यों नहीं हुयी??..किसानों की आय दुगुनी क्यों नहीं कर पाये??..लागत का डेढ गुना गन्ना/आलू किसानों को क्यों नहीं दे पाये??.. मंहगाई पर नियंत्रण क्यों नहीं कर पाये??.. विदेषों से कालाधन वापस क्यों नहीं ला पाये??.. भ्रष्टाचारी भारत का पैसा लेकर विदेष कैसे भाग गये??.. आतंकवाद से क्यों नहीं लड पाये तथा राम मन्दिर और धारा 370 के वादों पर क्या हुआ?? उन्होंने कहा कि भाजपा अपने पुराने घोषणा पत्र को तो भूल गयी,लेकिन देश की जनता को भलीभांति से याद है और वह इसका निर्णय लोकसभा चुनाव में अपने वोट से करने के लिए तैयार बैठी है।

About Samar Saleel

Check Also

नक्‍सल प्रभावित क्षेत्र में सेवाओं को सुधारने का इस कलेक्टर ने उठाया जिम्मा, करेंगे यह काम

नक्‍सल प्रभावित क्षेत्र बहुत ज्यादा पिछड़े होते हैं. वहांं पर महत्वपूर्ण सेवाओं की पहुंच कम होती है. दूरदराज में बसे होने ...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *