शार्ट शर्किट से तीन मंजिला मकान में लगी आग,तीन साल की मासूम की मौत

रायबरेली। लालगंज नगर की घनी बस्ती गुड़ मंडी मे शार्ट सर्किट से लगी आग के चलते भारी जन धन की हानि हुयी है।आग पर जब तक फायर ब्रिगेड कर्मी काबू पाते तब तक एक तीन वर्षीय मासूम बच्ची लक्ष्मी की आग मे ही जलकर दर्दनाक मौत हो गयी।वहीं दो अन्य छोटी अबोध बालिकाये अनन्या और वैष्णवी गम्भीर रूप से घायल भी हुयी है।अनन्या को लालगंज के चिकित्सको ने हालत गम्भीर होने के चलते लखनऊ मेडिकल कालेज रिफर कर दिया है।वहीं आग बुझा रहे फायर ब्रिगेड कर्मी आनंद प्रताप सिंह भी घायल हो गये है।लालगंज प्रभारी निरीक्षक विनोद कुमार सिंह ने अग्निकांड मे मृत लक्ष्मी के शव को पोस्टमार्टम के लिये भेजा है।

दो अन्य मासूमों की हालत गंभीर

प्राप्त जानकारी के अनुसार शुक्रवार को दोपहर 12 बजे के लगभग गुड मंडी के बजरंगी गुप्ता के तिमंजिले मकान के ऊपरी मंजिल के कमरे मे बिजली की सार्ट सर्किट से आग लग गयी।आग लगते ही घर मे बैठी महिलाओ मे दहशत व्याप्त हो गयी।बताते है कि बजरंगी की पत्नी आरती गोदी मे लिये हुये दो वर्षीय अनन्या को तो लेकर भागी लेकिन उसकी दो अन्य बच्चियां लक्ष्मी और वैष्णवी वहीं कमरे मे ही छूट गयी।आरती के चीखने चिल्लाने पर कुछ युवको ने घर के अन्दर घुसकर वैष्णवी को तो निकाल लिया लेकिन बढती आग की लपटे और धुएं के चलते बालिका लक्ष्मी को निकाला न जा सका,जिसके चलते वो तीन वर्षीय अबोध बालिका आग मे जलकर पूरी खाक हो गयी।उल्लेखनीय है कि बेकरी का कार्य करने वाले स्व. सियाराम अग्रहरि के तीन पुत्र बजरंगी,महेश,बउवन गुडहाई मंडी के तिमंजिला मकान मे रहते है। बजरंगी अपनी पत्नी आरती व तीन बच्चियो वैष्णवी,लक्ष्मी,अनन्या के साथ मकान की तीसरी मंजिल पर रहता था।बजरंगी के ही कमरे मे सार्ट सर्किट से आग लगी है।घनी बस्ती मे आग लग जाने की सूचना पाते ही सरकारी महकमा हरकत मे आ गया।
फायर ब्रिगेड व रेलकोच फायर ब्रिगेड कर्मियो ने मौके पर पहुंचकर आग पर काबू पाया। दोपहर बाद तक आग बुझायी जा रही थी।मकान घनी बस्ती और सकरी गली मे होने के चलते प्रसाशन को रेसक्यू आपरेशन करने मे भारी कठिनाई का सामना उठाना पडा।मौके पर पहुंचे सीओ लक्ष्मीकांत गौतम और प्रभारी निरीक्षक विनोद सिंह ने बगल वाले मकान की छत पर चढकर अग्निकांड वाले कमरे की दीवार तोडवाया। तब जाकर कमरे से जब कुछ धुंआ बाहर निकला उसके बाद पुलिस कर्मी मुकेस ने कमरे मे घुसकर जली हुयी बच्ची के शव को कम्बल मे लपेटकर बाहर निकाला। अग्निकांड की घटना का जायजा लेने एसडीएम जीतलाल सैनी और तहसीलदार अमिता यादव,नायब तहसीलदार पुष्पक भी मौके पर पहुंची। एसडीएम ने अग्निकांड से पीडित परिवार को सांत्वना देते हुये सरकार की ओर से दी जाने वाली सहायता दिलाने का आस्वासन भी दिया है।

About Samar Saleel

Check Also

हरियाणा: करनाल में 54 साल की महिला से गैंगरेप, आराेपियों की तलाश जारी

हरियाणा के करनाल में एक 54 साल की महिला के साथ गैंगरेप का मामला सामने ...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *