सोनिया गांधी का अहंकार तोड़ेगी जनता : Uma Bharti

रायबरेली। केन्द्रीय मंत्री एवं भाजपा की फायर ब्रांड नेता उमा भारती (Uma Bharti) ने गुरुबख्शगंज में रायबरेली लोकसभा सीट से भाजपा प्रत्याशी दिनेश प्रताप सिंह के समर्थन में एक जनसभा कर जनता का समर्थन मांगा। उन्होंने ओर सोनिया गांधी को अहंकारी बताते हुए विश्वास व्यक्त किया कि रायबरेली की जनता इस चुनाव में उनके अहंकार को चकनाचूर कर देगी।

हुबली में किसी भी राष्ट्रीय त्यौहार पर तिरंगा नहीं

केंद्रीय मंत्री उमा भारती ने बताया कि उन्होंने 2016 में चुनाव लड़ने से मना कर दिया था,क्योंकि उन्हे गंगा के तटों पर बसे तीर्थस्थानों पर जाना है। ऐसे में यदि वे चुनाव लड़ती तो झाँसी से ही लड़ती। उमा भारती ने कहा कि “उन्होंने अपना निर्वाचन क्षेत्र कभी नहीं बदला क्योंकि वहां के लोगों को उन पर गर्व है और वह मुझे अपनी बेटी जैसा मानते हैं।” उमा भारती ने तिरंगा यात्रा का वह वृतान्त भी सुनाया जब उन्होंने हुबली में जाकर के तिरंगा फहराया था। उन्होंने कहा कि,जब हुबली में तिरंगा फहराने के लिए कहा गया तो पता चला कि,हुबली में किसी भी राष्ट्रीय त्यौहार पर तिरंगा नहीं फहराया जाता था।वहां पर केवल नमाज पढी जाती थी। वह जगह ईदगाह थी और कार्यकर्ताओं के साथ जाकर वहां भी तिरंगा फहराया। उन्होंने कहा कि जब उन पर तिरंगा फहराने का केस दर्ज हुआ तो जिद में उन्होंने कुर्सी का बलिदान देकर गिरफ्तारी दी।

राम मंदिर पर उनकी आस्था एक स्थापित तथ्य

उन्होंने नमामि गंगे के बारे में कहा कि, जब उन्हें नमामि गंगे प्रोजेक्ट दिया गया तो वे काफी परेशान थीं। लेकिन कड़ी मेहनत के बाद उसे पूरा भी कर लिया। उमा भारती ने कहा कि राम मंदिर पर उनकी आस्था एक स्थापित तथ्य है और राम मंदिर के नाम से कोई नफा-नुकसान नहीं सोचते हैं। उन्होंने बताया कि अयोध्या आंदोलन के बाद 1993 का विधानसभा चुनाव हारने के बाद भी 1998 के चुनावी घोषणापत्र में राम मंदिर निर्माण को रखा गया,क्योंकि भाजपा राम को चुनाव की हार-जीत से नहीं देखती।राम आस्था के केंद्र बिंदु हैं।

पार्टी ने मुख्यमंत्री पद से लेकर कैबिनेट मंत्री तक

उमा भारती ने यह भी कहा कि वो 2024 का चुनाव लड़ेंगी और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में पार्टी ‘‘शानदार बहुमत” हासिल करेगी। उन्होंने बताया कि मौजूदा चुनाव न लड़ने के अपने फैसले से उन्होंने भाजपा हाई कमान को अवगत करा दिया था,लेकिन पार्टी ने उनसे चुनाव प्रचार करने को कहा है।उमा ने कहा कि वह पांच मई तक भाजपा के लिए चुनाव प्रचार करेंगी। उन्होंने कहा कि पार्टी ने उन्हें मुख्यमंत्री पद से लेकर कैबिनेट मंत्री के पद तक बहुत कुछ दिया।भारती ने कहा कि उन्होंने भाजपा के अध्यक्ष पद को छोड़ कर लगभग सभी संगठनात्मक दायित्व संभाले हैं। यह उनका दायित्व है कि पार्टी को शर्मिन्दा न होने दें।उन्होंने कहा कि वे पांच मई तक चुनाव प्रचार करेंगी।

जिसका पति जमीन घोटाले का आरोपी हो….

इससे पूर्व रायबरेली से भाजपा प्रत्याशी दिनेश प्रताप सिंह ने रायबरेली से सांसद सोनिया गांधी की पुत्री प्रियंका गांधी पर कटाक्ष किया और पूछा कि जिसका पति (रॉबर्ट वाड्रा) जमीन घोटाले का आरोपी हो, उसको लोग किस नजरिये से देखेंगे?उन्होंने कहा कि सोनिया और उनका परिवार रायबरेली की अवाम को गरीब,स्तरहीन और स्वाभिमान हीन समझती हैं। जिस रायबरेली ने उन्हें लगातार पन्द्रह साल सांसद पद पर बनाये रखा,उस रायबरेली के साथ उन्होंने कभी ईमानदारी से काम नहीं किया। दिनेश सिंह ने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के दो लोकसभा सीट से चुनाव लड़ने को लेकर कहा कि उन्हे जब अमेठी से चुनाव हार जाने की रिपोर्ट मिली तो वे केरल भाग गये। उन्होंने अमेठी में चुनाव से पहले ही अपनी हार मान ली है।

दिनेश सिंह ने कार्यकर्ताओं का आह्वान किया कि वे हर प्रकार के तर्क कुतर्क छोड़ कर सिर्फ भाजपा के लिए पसीना बहायें। जनसभा में बछरावां विधायक रामनरेश रावत, सरेनी विधायक धीरेन्द्र सिंह, भाजपा जिलाध्यक्ष रामदेव पाल, पशुपति शंकर बाजपेयी, कृष्ण जीवन तिवारी, बीरेन्द्र सिंह, नरेन्द्र सिंह भंडारी, धुन्नी सिंह, पुतानी दीक्षित, देवी सहाय त्रिवेदी, विनोद तिवारी तथा आनन्द मिश्रा (ललऊ) समेत हजारों भाजपा नेता व कार्यकर्ता मौजूद रहे।

रत्नेश मिश्रा
रत्नेश मिश्रा

About Samar Saleel

Check Also

‘अन्तर्राष्ट्रीय अंग्रेजी साहित्य महोत्सव’ में प्रतिभाग कर छात्रों ने बटोरी तालियाँ

लखनऊ। सिटी मोन्टेसरी स्कूल, राजाजीपुरम कैम्पस द्वारा सी.एम.एस. कानपुर रोड ऑडिटोरियम में आयोजित चार दिवसीय ...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *