Storm से दर्जनों की मौत

उत्तर प्रदेश में बुधवार देर रात Storm से दर्जनों लोगों को अलग अलग क्षेत्रों में मौत हो गई। जिसमें अब तक लगभग दो दर्जन से अधिक लोगों की मौत हुई है। इसमें सबसे अधिक मरने वालों की संख्या आगरा जिले से है। जहां लोगों के घरों की छत उड़ गई। इसके साथ कई जगहों पर बिजली के खंभे टूटने के कारण लाइट बाधित रही। जिससे शहरी और ग्रामीण क्षेत्रों में बिजली व्यवस्था ठप हो गई। तूफान में कई मवेशियों की जान चली गई। आंधी-तूफान से फसलों को भी काफी नुकसान पहुंचा है।  फिलहाल पुलिस और प्रशासन तबाही का आकलन करने में लगा हुआ है।

Storm, पीड़ितों को दिया जायेगा मुआवजा

सीएम योगी आदित्यनाथ ने सभी प्रभावित जिलों के जिलाधिकारियों को तुरंत आर्थिक सहायता मुहैया कराने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने कहा है कि मदद में शिथिलता बरतने पर कार्रवाई की जाएगी। राज्य के राजस्व और राहत आयुक्त संजय कुमार ने बताया कि आंधी-तूफान से मरने वालों की संख्या का आंकलन जुटाया जा रहा है। इसके साथ लोगों को होने वाले नुकसान के लिए प्रशासन की ओर से राहत और मुआवजा देने की घोषणा की गई है।

तेज रफ्तार आंधी तूफान से कई लोगों की हुई मौत

पिछले दिन 132 किलोमीटर प्रति घंटा की रफ़्तार से आए आंधी-तूफान में ग्रामीण इलाकों में जमकर तबाही मचाई। तूफान का सबसे ज्यादा असर आगरा, खेरागढ़, फतेहाबाद, पिनाहट और अछनेरा में हुआ है। वहीं ग्रामीण क्षेत्रों में मकानों की छत और टिन शेड उड़ गये। लगभग 90 मिनट तक आंधी, बारिश और ओलावृष्टि के चलते सैकड़ों पेड़, होर्डिंग, मकान की छतें और टिन शेड गिर गये। ​जिससे काफी आर्थिक नुकसान हुआ। आगरा में लगभग 30 लोगों की मौत हुई है। वही खेरागढ़ में 15 लोगों की मौत हुई है। फतेहाबाद में 9, बह में 4, किरावली व एत्मादपुर में दो-दो लोगों की मौत, सदर में भी एक मौत की पुष्टि हुई है। वृह​स्पतिवार को भी बारिश और आंधी तूफान की आशंका है।

About Samar Saleel

Check Also

DRDO में कवि सम्मेलन का आयोजन

नई दिल्ली। रक्षा अनुसंधान एवं विकास संगठन मुख्यालय (डी.आर.डी.ओ.) राजाजी मार्ग में राजभाषा निदेशालय द्वारा ...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *