Nawaz Sharif ने कहा मै सच बोलूंगा

Nawaz Sharif ने 26/11 हमले पर दिए गये बयान का बचाव करते हुए कहा कि मैं सच बोलूंगा। दरअसल मुंबई में 2008 में हुए आतंकी हमले में पाकिस्तान से आए आतंकियों का हाथ था। इस बयान के बाद पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ अलग-थलग पड़ गए हैं। वहीं शरीफ के इस कबूलनामे से पाकिस्तान में विवाद शुरू हो गया है और इस बयान को खारिज करने के लिए पाकिस्तान में राष्ट्रीय सुरक्षा समिति ने एक उच्च स्तरीय बैठक बुलाई है। लेकिन इन सब हमलों के बाद भी नवाज शरीफ अपने बयान पर कायम हैं। उन्होंने कहा कि वह सच बोलेंगे, परिणाम चाहे कुछ भी हों।

Nawaz Sharif ने सार्वजनिक तौर इंटरव्यू में आतंकवादी संगठन सक्रिय होना किया था स्वीकार

पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री नवाज़ शरीफ़ ने 2008 मुंबई आतंकी हमले में बयान का बचाव करते हुए तीखा हमला बोला है। उन्होंने कहा कि परिणाम चाहे जो हो लेकिन वह सच बोलेंगे। बीते दिनों शरीफ़ ने पहली बार एक इंटरव्यू में सार्वजनिक तौर पर स्वीकार किया था कि पाकिस्तान में आतंकवादी संगठन सक्रिय है। उन्होंने आतंकवादियों को सरहद पार भारत के शहर मुंबई में जाकर लोगों को मारने को लेकर भी सवाल खड़े किए थे।

शरीफ ने अपने बयान को बताया सही

नवाज शरीफ का इंटरव्यू शनिवार को अखबारों में छपा था। जिसके बाद से उनकी पार्टी ने इसके बारे में स्पष्टीकरण देते हुए कहा था कि उनकी बातों को भारतीय मीडिया ने गलत तरीके से पेश किया। लेकिन उसके बाद सोमवार को शरीफ़ ने एक बार फिर से अपने बयान को सही ठहराते हुए कहा कि चाहे जो हो जाए वह सच बोलेंगे।

नवाज शरीफ ने जताया अफसोस

नवाज़ ने अफसोस जताते हुए कहा कि जो लोग सवाल पूछते हैं उन्हें मीडिया गद्दार करार दे देती है। उन्होंने कहा, “50 हज़ार लोगों की कुर्बानी देने के बावजूद दुनिया हमारी समस्याओं पर गौर क्यों नहीं फरमा रही? जो कोई भी इसको लेकर सवाल पूछता है उसे गद्दार करार दे दिया जाता है।”

शरीफ ने कहा कि मीडिया ने मुझे गद्दार करार दिया

शरीफ़ ने पाकिस्तानी मीडिया पर सीधा हमला बोलते हुए कहा कि “मीडिया में मुझे गद्दार कहा जा रहा है। यह मीडिया खुद न कहकर कहलवाया जा रहा है। उन्होंने कहा कि क्या जो देश और संविधान को बर्बाद कर रहे हैं वे देशभक्त हैं? क्या जिन्होंने जज को उनके दफ़्तरों से बाहर निकाल फेंका वे देशभक्त हैं? चाहे मुझे जो भी परिणाम भुगतने पड़ें लेकिन मैं सच बोलूंगा।

About Samar Saleel

Check Also

ट्रंप ने की इमरान खान से बातचीत, कहा- भारत के खिलाफ तीखी बयानबाजी से बचें

अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने कश्मीर मसले को ‘कठिन परिस्थिति’ मानते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र ...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *