Arthritis से बचने के लिए रामबाण है 10000 कदम

लखनऊ। Arthritis से बचने के लिए 10000 कदम चलना काफी फायदेमंद है। इसके साथ रोजाना योग का अभ्यास करना और आहार में दूध, पनीर, अंडे की जर्दी और मछली लेने से गठिया की बीमारी से प्रभावित को बेहतर लाभ मिलता है। गठिया अधिकतर 65 वर्ष या उससे अधिक उम्र के लोगों को प्रभावित करता है। हालाँकि, उम्र ही एकमात्र रोगों का कारण नहीं होती हैं। दरअसल, 20 साल से अधिक वर्ष के युवाओं में गठिया के मामले तेजी से बढ़ रहे है और बदलती जीवनशैली व दैनिक जीवन के तनाव में वृद्धि के कारण यह समस्या लगातार बढ़ती जा रही हैं। छात्र, वरिष्ठ नागरिक, गर्भवती महिलाएं, यह लगभग हर भारतीय के जीवन को प्रभावित करती है। आर्थराइटिस जो अक्सर ज्यादा उम्र के लोगों से जुड़ा होता है, वह युवाओं के बीच बढ़ती चिंता के रूप में उभर रहा हैं।

  • आनुवंशिक बदलाव, तनाव से भरी जीवन शैली, व्यायाम की कमी, मोटापा, तंबाकू का सेवन और अनियमित नींद भी अधिकांश लोगों में गठिया होने के कारण हैं।

Arthritis, शारीरिक गतिविधियों के साथ खान पान, धूम्रपान व आनुवंशिका कारण

रेडियस जॉइंट सर्जरी हॉस्पिटल के सीनियर कंसलटेंट, डॉ संजय कुमार श्रीवास्तव ने कहा, उम्र गठिया का एकमात्र कारण नहीं है बल्कि बदलती जीवनशैली की वजह से 20 वर्षों से कम उम्र के युवाओं में भी गठिया आमतौर पर दिखाई देने लगी हैं। सिगरेट धूम्रपान से आनुवंशिक प्रतिक्रिया हो सकती है जो रयूमेटायड अर्थराइटिस का कारण बन सकती है। एक स्वस्थ जीवनशैली को बनाए रखना जिसमें शारीरिक गतिविधियां भी शामिल हो। साथ ही खेलते वक्त अतिरिक्त सावधानी बरतने से और धूम्रपान छोड़ने से गठिया के दर्द में काफी राहत मिल सकती है।

कई तरह के गठिया 15 लाख युवाओं को कर रहे प्रभावित

उन्होंने यह भी कहा, हमारी आबादी के लगभग 15 प्रतिशत लोग गठिया से पीड़ित है और लगभग 75 प्रतिशत लोग विटामिन-डी की कमी के कारण इससे प्रभावित होते हैं। जोड़ों में सूजन, दर्द, अकड़न या सुन्न हो जाना गठिया के प्रमुख लक्षण होते हैं। युवाओं को प्रभावित करने वाले गठिया में जुवेनाइल क्रोनिक आर्थराइटिस, रूमेटाइड आर्थराइटिस और एंकिलोजिंग स्पोंडिलाइटिस आदि शामिल हैं। ऑस्टियोआर्थराइटिस गठिया का एक सबसे प्रचलित प्रकार है जो भारत में हर साल 15 लाख युवाओं को प्रभावित करता है। ऑस्टियोआर्थराइटिस के 50 प्रतिशत से अधिक मामले अनुवांशिक होते हैं।

गठिया से पीड़ित अपनाये ये उपाय

गठिया का खतरा अपनी जीवन शैली में कुछ महत्वपूर्ण बदलाव लाकर, अपने दिनचर्या में व्यायाम को शामिल करके और एक स्वस्थ जीवनशैली की ओर बढ़कर कम किया जा सकता है। प्रबंध निदेशक, रेडियस जॉइंट सर्जरी हॉस्पिटल, डॉ रुपाली श्रीवास्तव (अब्स्टेट्रिक्स, गइनकालजिस्ट) ने कहा, कम से कम 10,000 कदम तेज चलने और योग करने से गठिया दर्द में बड़ी राहत प्राप्त की जा सकती है। यदि आप मछली खाते हैं तो सैल्मन और ट्यूना विटामिन-डी के उत्कृष्ट स्रोत हैं। गठिया से पीड़ित लोगों को ऐसी दिनचर्या का पालन करना चाहिए जिसमें संतुलित व स्वस्थ आहार और फिजियोथेरेपी का उपयोग शामिल हो। इससे गठिया के दर्द और तमाम असुविधाओं में काफी राहत मिल सकती है ।

……………………………

संक्षिप्त खबर—

दुकान की छत काटकर हजारों की चोरी

फिरोज़ाबाद जिले के थाना जसराना क्षेत्र कस्बा पाढ़म के मेन मार्केट में दुकान की छत काटकर हजारों की चोरी को अंजाम दिया गया। दरअसल पीड़ित अंजुम अंसारी की पंसारी की दुकान है, जो कि पुरानी पुलिस चौकी के पास है। बीती रात चोरों ने दुकान की छत काटकर हजारों की चोरी को अंजाम दिया गया। चोरी की घटना की सूचना पुलिस को दी गई है। पुलिस ने मौके पर पहुंचकर जांच की।

रिपोर्ट—फरमान बबलू

About Samar Saleel

Check Also

देश की सेवा में शहीद हुए सैनिक की पत्नी को मिला यह तोहफा, हथेलियां बिछाकर लोगो ने…

वीरता के कई किस्‍से आपने सुने होंगे, मगर सैनिक की वीरगति के बाद वीरांगाना को जिस तरह ...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *