भ्रष्टाचार: निर्माण कार्य की आड़ में हो रहा मिट्टी का अवैध खनन

रायबरेली। भ्रष्टाचार के खात्मे और सुशासन की आस में बनी भाजपा की सरकार के चार वर्ष पूरे होने पर जन्हा एक ओर जश्न का माहौल है और जनपदों में सरकार की उपलब्धिया वंहा के प्रभारी मंत्री तथा भाजपाई कार्यकर्ता जनता को बता रहे है तो वंही दूसरी ओर सरकार की योजनाओं को पूरा करने के लिए कार्यदाई संस्था जनता का ही नुकसान कर रही है और अधिकारी अपनी आँखे मूंदे हुए है।

भ्रष्टाचार से जुड़ा यहा मामला

भ्रष्टाचार से जुड़ा यहा मामला जनपद के महराजगंज तहसील के बछरावां क्षेत्र का है जन्हा रेलखण्ड के दोहरीकरण और प्लेटफार्म के निर्माण का कार्य चल रहा है इस काम को कराने वाली सिम्पलेक्स इन्फ्राइंस्ट्रकचर लिमिटेड कंपनी ट्रैक व प्लेटफार्म निर्माण के लिए मिट्टी का खनन करवा रही है जिसके लिए उसने जनपद के खनन विभाग से स्वीकृत पत्र लेकर मिट्टी खोदने का काम पेटी ठेकेदारों को सौंप दिया जो रेलवे में काम की आंड को लेकर नियमो को अपनी जेब में रखकर प्रशासन को चुनौती देते हुए दिनरात अवैध खनन कर रहे है ।

बारिश आने से पहले इस कम्पनी पर मिट्टी का काम खत्म करने का दबाव भी है जिसके कारण इस वक्त मिट्टी का खनन जोरो पर है लेकिन इन सबके बीच कंपनी आम जनता की परेशानियों को भूल गयी , बछरावां क्षेत्र के कन्नावा गाँव के आस पास पूरे क्षेत्र में रेलवे ट्रैक के किनारे मिट्टी खोदी जा रही है यह मिट्टी क्षेत्र के लोंगो की जमीनों और सरकारी जमीनों से भी निकाली जा रही है जबकि कंपनी के पास सिर्फ बगाही गाँव में गाटा संख्या 4920 में 0.758 क्षेत्रफल के लिए 13300 घनमीटर की ही खुदाई का स्वीकृत पत्र है।

मिट्टी खनन में कंपनी द्वारा प्रदूषण मानकों की अनदेखी भी की जा रही है। मिट्टी खुदाई के लिए लगे डम्फर और ट्रैक्टर ट्राली से उड़ने वाली धुल आस पास के गाँवों में लोंगो का जीना हराम कर रही है इसके अलावां गाँव की सड़क का भी सत्यानाश हो चुका है। तय समय में जल्द से जल्द काम पूरा करवाने की धुन में कम्पनी जनता की परेशानियों पर धूल उड़ा रही है और अधिकारी अपनी आँखे मूंदे हुए है।

एडीएम ने बताया

वंही जब सिम्पलेक्स इन्फ्राइंस्ट्रकचर लिमिटेड के द्वारा कराये जा रहे मिट्टी के अवैध खनन की जानकारी जिला प्रशासन से चाही गयी तो (एडीएम वित्त एवं राजस्व ) राजेश प्रजापति ने बताया कि उन्हें इस प्रकरण की कोइ जानकारी नहीं है जानकारी की जाएगी , यही नहीं क्षेत्र के तहसीलदार को तो मामले की भनक तक नहीं है।

दुर्गेश मिश्रा

 

About Samar Saleel

Check Also

योगी सरकार का मंत्रिमंडल विस्तार को लेकर चर्चाए हुई तेज

लखनऊ। उत्तर प्रदेश की करीब ढाई वर्ष पुरानी योगी आदित्यनाथ सरकार का पहला मंत्रिमंडल विस्तार ...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *