West Bengal: बीजेपी के 2 कार्यकर्ताओं की हत्या

West Bengal में बीजेपी के 2 कार्यकर्ताओं की नृशंस हत्या को अंजाम दिया गया। सूत्रों के अनुसार हत्या में टीएमसी कार्यकर्ताओं का हाथ सामने आ रहा है। इस मामले के बाद पश्चिम बंगाल में जहां राजनीतिक संघर्ष लगातार बढ़ता जा रहा है, वहीं बीजेपी कार्यकर्ताओं पर हिंसा की घटनाएं भी लगातार बढ़ती जा रही हैं। दूसरी ओर पश्चिम बंगाल सरकार प्रशासन से जांच कराकर मामले को उजागर करने के बजाय, उसे अनदेखा कर रही है। लेकिन अब मानवाधिकार ने मामले का संज्ञान लिया है।

West Bengal, शव को पोल से लटकाया

पश्चिम बंगाल के पुरुलिया जिले के बलरामपुर के ढाबा गांव निवासी 32 वर्षीय बीजेपी कार्यकर्ता दुलाल कुमार की हत्या करने के बाद शव एक पोल से लटका दिया गया। बीजेपी ने अपने कार्यकर्ता की हत्या के पीछे टीएमसी का हाथ होने की आशंका जताई है। इसके पहले भी कुछ ही दिनों पहले पुरुलिया जिले में एक अन्य बीजेपी कार्यकर्ता की हत्या कर दी गई थी।

मृतक की टी-शर्ट पर लिखा था—बीजेपी के लिए काम करने वालों का यही अंजाम होगा

पश्चिम बंगाल में कुछ दिनों पहले ही 20 वर्षीय त्रिलोचन महतो की हत्या करने के बाद शव को घर के पास नायलॅान की रस्सी से लटका दिया गया था। मृतक त्रिलोचन महतो की टी-शर्ट पर बांग्ला भाषा में एक पोस्टर चिपकाया गया था। जिसमें लिखा गया था कि बीजेपी के लिए काम करने वालों का यहीं अंजाम होगा। तुम इस उम्र में भाजपा के लिए काम कर रहे हो। हम चुनाव के समय से ही तुम्हें मारने की कोशिश कर रहे थे और आज हमने तुम्हें मार दिया। टीएमसी इस घटना से बचने के लिए मामले की गहन जांच करवाने के बजाय अपना बचाव करने में लगी है।

मानवाधिकार की नोटिस के बाद जागी पश्चिम बंगाल सरकार

राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग की मीडिया रिपोर्ट्स के आधार पर पश्चिम बंगाल सरकार को नोटिस भेजे जाने के बाद ​संज्ञान लिया है। जिसके बाद अब सीआईडी मामले की जांच करेेगी।

About Samar Saleel

Check Also

Chidambaram की गिरफ्तारी पर भड़की कांग्रेस, कहा- दिनदहाड़े लोकतंत्र की हत्या हुई

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और पूर्व गृहमंत्री व वित्त मंत्री पी. चिदंबरम की आईएनएक्स मीडिया ...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *