American drone attack में मारा गया तहरीक-ए-तालिबान कमांडर फजल उल्‍लाह

American drone attack में पाकिस्‍तान के तहरीक-ए-तालिबान के नए कमांडर फजल उल्‍लाह को मार गिराया। इससे पहले नवंबर 2013 में अमेरिका ने ऐसे ही हमले कर तहरीक-ए-तालिबान पाकिस्‍तान (टीटीपी) के हाकिमुल्‍ला मेहसूद को मार गिराया था। सूत्रों के अनुसार यह कहा जा रहा है कि अमेरिका ने यह हमला 13 जून को किया था, लेकिन उस समय कमांडर फजल उल्‍लाह के मारे जाने की पुष्‍टि नहीं की गई थी। इसके बाद शुक्रवार को अमेरिकी समाचार संस्था (वीओए) ने कमांडर के मारे जाने की पुष्‍टि की है।

पाकिस्तान बार्डर पर अपने साथियों के साथ था मौजूद

सूत्रों के अनुसार अमेरिका को जानकारी मिली थी कि तहरीक-ए-तालिबान का नया कमांडर अपने कुछ साथियों के साथ पाकिस्‍तान बॉर्डर पर मौजूद है। जिसके बाद अमेरिका ने कार्रवाई करते हुए पाकिस्‍तान और अफगानिस्‍तान के बॉर्डर कुनार प्रांत में ड्रोन से हमलाकर तहरीक ए तालिबान के कमांडर फजल उल्‍लाह को मारा गिराया। ड्रोन हमले में मृतकों की पहचान अबू बकर, उमर, इमरान और साजिद के रूप में की गई है। फजल उल्‍लाह (39) साल का था। सूत्रों के अनुसार फजल उल्‍लाह ने इस्‍लामिक धार्मिक विद्यालय में पढ़ाई करने के बाद अपने ससुर के तहरीक-ए-नफज-ए-शरीयत-ए-मोहम्‍मदी के आंदोलेन में हिस्सा लेते हुए शामिल हो गया था। वर्ष 2013 में अमेरिका ने ऐसे ही हमले में तहरीक-ए-तालिबान पाकिस्‍तान (टीटीपी) के हाकिमुल्‍ला मेहसूद को मार गिराया था।

About Samar Saleel

Check Also

कश्मीर मुद्दे को लेकर संयुक्त राष्ट्र पहुंचा पाक लेकिन अपने नापाक इरादों में नहीं हो पाया कामयाब

तमाम कोशिशों के बावजूद पाकिस्तान अपने नापाक इरादों में कामयाब नहीं हो रहा।  को कश्मीर ...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *