गाइड समाज कल्याण संस्थान द्वारा संगोष्ठी का आयोजन

आज गाइड समाज कल्याण संस्थान ने अंतर्राष्ट्रीय वृद्धजन दुर्व्यवहार जागरूकता माह के अंतर्गत एवं संस्था द्वारा संचालित बुजुर्गों के लिए टोलफ्री हेल्पलाइन 1800-180-0060 की पहली वर्षगाँठ के अवसर पर एक संगोष्ठी सेक्टर-जी जानकीपुरम स्थित एन.आर.एल.सी. ट्रेनिंग इंस्टिट्यूट में आयोजित की। कार्यक्रम की मुख्य अतिथि कैबिनेट मंत्री डॉ रीता बहुगुणा जोशी रहीं।

संगोष्ठी की अध्यक्षता न्यायमूर्ति कमलेश्वर नाथ द्वारा

कार्यक्रम की अध्यक्षता माननीय न्यायमूर्ति श्री कमलेश्वर नाथ, पूर्व उप -लोकायुक्त, कर्नाटक द्वारा की गयी। विशिष्ट अतिथि के रूप में माननीय न्यायमूर्ति श्री सुधीर चन्द्र वर्मा जी, पूर्व लोकायुक्त, उत्तर प्रदेश उपस्थित रहे। साथ ही मनीषा मंदिर की संचालिका डॉ.सरोजनी अग्रवाल व कुसुम लता श्रीवास्तव भी मौजूद रहीं। डा0 इन्दु सुभाष, प्रबन्ध निदेशक, गाइड समाज कल्याण संस्थान द्वारा कार्यक्रम का संचालन किया गया। साथ ही संस्था के स्वयंसेवक, विभिन्न कालेज के छात्र एवं शिक्षक, वृद्धाश्रम के बुजुर्ग व तमाम सामाजिक कार्यकर्ता मौजूद रहे।

विधि का दुरूपयोग, परिवारों में अशांति

मुख्य अतिथि ने अपने संबोधन में सभी को अच्छा कार्य करने, व्यस्त रहने एवं सकारात्मक सोच के साथ अगली पीढ़ी के साथ सम्बन्ध रखने के लिए प्रेरित किया। डॉ.इंदु सुभाष ने बताया कि हेल्पलाइन पर वर्ष भर में आई अधिकतम काल्स में वधुओं का बुजुर्गों के प्रति दुर्व्यवहार एवं विधि का दुरूपयोग परिवारों में अशांति को जन्म दे रहा है। मुख्य अतिथि ने कानून का इस प्रकार के दुरूपयोग की भर्त्सना करते हुए संस्था द्वारा किये जा रहे समाज के सशक्तिकरण के प्रयासों व बुजुर्गों के लिए टोल-फ्री हेल्पलाइन सेवा की मुक्त कंठ से सराहना की।

बुजुर्गों की गिरती हुई स्थिति

न्यायमूर्ति श्री सुधीर चन्द्र वर्मा जी ने भारतीय परिवारों में बुजुर्गों की गिरती हुई स्थिति पर चिंता व्यक्त की व युवाओं से आह्वाहन किया कि सम्मान व समय देकर हम बुजुर्गों के प्रति अपने कर्तव्य की पूर्ति करें व उनके अनुभवों का लाभ लें । आने वाली युवा पीढ़ी से अपील करते हुए उन्होंने कहा कि अपने बुजुर्गों का सम्मान व आदर करें |

समाज मे समस्याएँ स्वाभाविक हैं। समस्यायों के निदान के लिये संघर्ष भी स्वाभाविक है : न्यायमूर्ति कमलेश्वर नाथ

नुक्कड़ नाटक द्वारा बुजुर्गों की स्थिति का चित्रण

रवि चौधरी ने संस्था द्वारा निःशुल्क संचालित वरिष्ठजन टोलफ्री हेल्पलाइन पर वर्ष भर में आई कॉल्स का एक सशक्त पॉवरपॉइंट प्रेजेंटेशन प्रस्तुत किया। संस्था के वरिष्ठ स्वयंसेवक प्रतीक श्रीवास्तव ने बुजुर्गों के लिए संस्था की एक “मोबाइल ऐप” शीघ्र ही शुरू करने की घोषणा की। साथ ही संस्था के स्वयं सेवकों द्वारा “माता पिता भरण पोषण अधिनियम” की जागरूकता हेतु एक नुक्कड़ नाटक भी प्रस्तुत किया।

कार्यक्रम में संस्था के संरक्षण में “हनुमत कृपा वरिष्ठजन डे केयर सेंटर ” के प्रारंभ करने की घोषणा की एवं इसके संचालक प्रेम नारायण मल्होत्रा को मुख्य अतिथि द्वारा सम्मानित किया गया।

बुजुर्गों के अनुभवों,युवाओं की ताकत से बनेगा नया भारत

संस्थान की प्रबंध निदेशिका डॉ इंदु सुभाष ने कहा कि बुजुर्गों के स्नेहाशीष का दूर तक असर होता है। उन्होंने बताया कि बुजुर्गों के अनुभवों और युवाओं की ताकत से नया भारत बनेगा। उन्होंने भारतीय परिवारों में बुजुर्गों की असुरक्षित होती स्थिति पर प्रकाश डाला और युवा छात्राओं को कानूनों के दुरुपयोग न करने एवं “कर्तव्य हमारे पहले होते हैं, अधिकार बाद में” की शपथ दिलाई | साथ ही उन्होंने बताया कि अंतरराष्ट्रीय वृद्धजन दुर्व्यवहार जागरूकता माह के अंतर्गत देश के विभिन्न शैक्षिक संस्थानों में संस्था द्वारा उक्त विषय पर विचार गोष्ठिओं का आयोजन किया जा रहा है एवं युवाओं को बुजुर्गों के सम्मान के प्रति संवेदनशील एवं जागरूक किया जा रहा है।

वरुण सिंह

About Samar Saleel

Check Also

बेहतर पुलिसिंग से क्राइम को कंट्रोल किया जायेगा: एसपी स्वप्निल

रायबरेली। नवागत पुलिस अधीक्षक स्वप्निल ममगैन ने शुक्रवार की शाम कार्यभार ग्रहण कर लिया है। ...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *