Uncontrolled Car पलटी,अन्य हादसों समेत चार युवकों की मौत

लालगंज रायबरेली। लालगंज डलमऊ मार्ग पर चचिहा मोड़ के पास एक सड़क दुर्घटना में दो लोगों की मौत हो गई है। जबकि अलग अलग घटित अन्य घटनाओं में दो अन्य की मौत हो गयी और पांच लोग गंभीर घायल हो गये। सभी घायलों को उपचार के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया है। प्रत्यक्षदर्शियों के मुताबिक तेज रफ्तार से आ रही कार चचिहा मोड़ के पास अनियत्रित कार Uncontrolled Car पलट जिससे ये हादसा हो गया।

accident

परिवार के दो युवकों

जानकारी के अनुसार भगवंत नगर उन्नाव निवासी पंकज निर्मल और अमर निर्मल शुक्रवार को डलमऊ बारात गए थे। देर रात करीब 2:00 बजे बारात से वापस घर भगवंतनगर आ रहे थे तभी रास्ते में चचिहा मोड़ के पास कार अनियंत्रित होकर पलट गई। हादसे में पंकज और अमर निर्मल की मौके पर मौत हो गई। दुर्घटना में एक ही परिवार के दोनों युवकों की मौत से निर्मल परिवार में मातम छा गया।

-: संक्षिप्त खबर :- 

ट्रक की टक्कर से एक युवक की मौत,एक घायल

ऊंचाहार(रायबरेली)। गदागंज थाना क्षेत्र मे लल्ली की चक्की के पास बाइक सवार दो युवको को ट्रक ने टक्कर मार दिया। जिसमे एक युवक की इलाज के दौरान अस्पताल में मौत हो गयी है।जानकारी के मुताबिक ऊंचाहार के नारायन पुर निवासी शिवम सिंह(21) पुत्र जितेंद्र सिंह अपने दोस्त मोहित(25) पुत्र धनंजय निवासी नारायन भीट थाना गदागंज के साथ बाइक से किसी काम से गदागंज गए थे। वापस घर आते समय ऊंचाहार की ओर से जा रहे एक तेजरफ्तार ट्रक ने उनकी बाइक में टक्कर मार दिया जिससे दोनों गंभीर घायल हो गए। घायलो को उपचार के लिए एनटीपीसी अस्पताल लाया गया जहां इलाज के दौरान शिवम की मौत हो गयी जबकि मोहित का उपचार चल रहा है। दुर्घटना को अंजाम देकर ट्रक चालक मय ट्रक भाग निकला जिसका पता लगाकर पुलिस पकड़ने का प्रयास कर रही है।

ये भी पढ़ें :-Poison देकर युवक को मारने का आरोप

फाइल फोटो अवधेश कुमार
फाइल फोटो अवधेश कुमार

माँ का इलाज कराने जा रहा बेटा ट्रेन से कटा

ऊंचाहार,रायबरेली। इससे बड़ा दुख और क्या हो सकती है जब देखते ही देखते एक मां के सामने उसके जिगर का टुकड़ा काल के गाल में समा जाये और लाचार माँ बदहवास सी देखती रह जाये। ऐसी ही एक हृदयविदारक घटना ऊंचाहार थाना क्षेत्र में घाटी जहां ट्रेन की चपेट में एक युवक की मौत हो गयी। जानकारी के मुताबिक द्वारिका का पुरवा निवासी अवधेश कुमार (22) पुत्र श्याम लाल शुक्रवार की सुबह अपनी माँ सम्पत देवी का इलाज कराने के लिए बाइक से जमुनापुर जा रहा था। रस्ते में रामचंदर पुर स्टेशन के पास उधर से गुजर रही नौचंदी एक्स्प्रेस के लिए रेलवे का फाटक बंद था।अवधेश ने माँ को फाटक के पास उतार कर बाइक लेकर रामचंदर पुर हाल्ट के पास गया। वहाँ से रेलवे ट्रैक के किनारे से बाइक निकाल रहा था कि तभी ट्रेन आ गयी और बाइक उसमे फंस गयी। बाइक को ट्रेन में फंसा देख जब युवक ने बाइक को बचाने के लिए खींचा तो वह भी ट्रेन की चपेट में आ गया। ट्रेन की चपेट में आने से अवधेश की मौके पर ही मौत हो गयी और दूर खड़ी लाचार मां लोगों से अपने लाल को बचने की मिन्नते करती रही। सूचना पाकर मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे मे लेकर पोस्ट मार्टम के लिए भेजा दिया। मृतक अपने घर मे सबसे छोटा था। उसका एक बड़ा एक व दो बहने है,दो बड़ी बहनो की शादी हो चुकी है।

सामने आया पुलिस का मानवीय चेहरा

ट्रेन हादसे का शिकार हुआ युवक बहुत गरीब परिवार से था। उसके पिता श्यामलाल बाबूगंज बाजार में ठेलिया लगाते है। दुर्घटना के तुरंत बाद कोतवाल धनंजय सिंह मौके पर पहुंचे और जब उनको पीड़ित परिवार की आर्थिक स्थित की जानकारी हुई उन्होंने मृतक के पिता को अपने पास से पाँच हजार रुपये देकर आर्थिक मदद किया। इतना ही नहीं उन्होंने शव को पोस्ट मार्टम के लिए ले जाने ले आने के लिए वाहन का भी प्रबंध किया। कोतवाल के इस आचरण की सभी ने सराहना की है।

रिपोर्ट-रत्नेश मिश्रा/सुशील शुक्ला

About Samar Saleel

Check Also

बेहतर पुलिसिंग से क्राइम को कंट्रोल किया जायेगा: एसपी स्वप्निल

रायबरेली। नवागत पुलिस अधीक्षक स्वप्निल ममगैन ने शुक्रवार की शाम कार्यभार ग्रहण कर लिया है। ...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *