यूपी में बारिश का कहर, 12 लोगों की मौत

लखनऊ। यूपी के कई जिलों में अगले 24 घंटों में तेज बारिश होने की उम्मीद है, तो वहीं पिछले 24 घंटे हुई भारी बरसात के चलते 12 लोगों की मौत हो गई जबकि सात लोग घायल हो गए। इसी के साथ ही पिछले एक सप्ताह में बारिश से हुए हादसों में मरने वालों की संख्या 100 को पार कर चुकी है। उधर, सीएम योगी ने प्रदेश में भारी बारिश के कारण उपजे हालात से आम लोगों को राहत दिलाने के निर्देश जारी कर दिए हैं।

बारिश से फरूखाबाद और बहराइच में

सूत्रों के अनुसार दौरान बारिश से फरूखाबाद और बहराइच में दो-दो लोगों की मौत हुई है जबकि लखीमपुर खीरी, रायबरेली, लखनऊ, कानपुर देहात, बाराबंकी, सीतापुर और सुल्तानपुर में एक-एक व्यक्ति की मौत हुई है। वहीं 16 पशुओं की भी मौत हुई है। वहीं 540 मकान भी क्षतिग्रस्त हुए हैं जिसमें सबसे ज्यादा 346 मकान हाथरस में नेस्तेनाबूत हुए हैं।

उधर प्रदेश की सभी प्रमुख नदियां उफान पर हैं और कई जगह बाढ़ का संकट भी गहरा गया है। पश्चिम उत्तर प्रदेश में यमुना के उफान से कई गांव दहशत में हैं। पानी धीरे-धीरे सैकड़ों एकड़ कृषि भूमि को अपनी आगोश में लेने लगा है, वहीं पूर्वी उत्तर प्रदेश में गंगा, घाघरा आदि नदियों से लोग सहमे हुए हैं।

इस बीच रेलवे अधिकारियों के मुताबिक, भारी बरसात की वजह से कई जगह पटरियों के डूब जाने के कारण रेलगाड़ियों का परिचालन बुरी तरह प्रभावित हुआ है। कई रेलगाड़ियां अपने नियत समय से घंटों देरी से चलने के लिए मजबूर हैं जबकि बारिश की वजह से कुछ लोकल रेलगाड़ियों को रद्द भी करना पड़ा है।

एक्सप्रेसवे का एक हिस्सा ढहा-
बुधवार को पूर्व की सपा सरकार के दौरान बने लखनऊ-आगरा एक्सप्रेसवे भी बारिश के प्रकोप से बच नहीं पाया। बुधवार को इसकी सर्विस रोड धंस गई, जिसमें एक कार 50 फीट गहरे गड्ढे में जा गिरी। हालांकि इस हादसे में कार सवार चार लोग बाल-बाल बच गए।

 

About Samar Saleel

Check Also

दिल्ली सरकार का 10वीं-12वीं के छात्रों तोहफा- नहीं देनी होगी बोर्ड परीक्षा की फीस

सेंट्रल बोर्ड ऑफ सेकंडरी एजुकेशन (CBSE) के 10वीं और 12वीं बोर्ड की फीस बढ़ाने के ...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *