अखिलेश यादव करेंगे बैलेट सत्याग्रह

लखनऊ। अखिलेश यादव ने चुनाव बैलट से न होने पर बैलेट सत्याग्रह चलाने के लिए कहा था। इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीन यानी ईवीएम मशीन पर एक बार फिर सवाल उठाते हुए समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष व उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) को घेर लिया है। उन्होंने ट्वीट के जरिए ईवीएम मशीन को लेकर सवाल किया है।

उन्होंने ट्वीट किया कि- अब लोगों के ऐंड्रॉइड मोबाइल फोन की कॉन्टेक्ट लिस्ट में उनकी मर्ज़ी के बिना ‘आधार कार्ड’ की हेल्पलाइन का नम्बर अवैध रूप से सेव हो गया है। इसका मतलब कुछ लोगों ने आपके फोन और उसकी सूचनाओं तक अपनी पहुंच बना ली है। इनमें वो लोग भी होगें, जो कहते हैं कि ईएवीएम पूरी तरह सुरक्षित है।

बैलेट सत्याग्रह करेंगे अखिलेश यादव

पिछले दिनों अखिलेश यादव ने ऐलान किया था कि अगर अगले चुनाव बैलट से नहीं हुए तो वह  सत्याग्रह चलाएंगे। उन्होंने ट्वीट कर कहा था, कि हमने फैसला कर लिया है कि अगला चुनाव  पेपर’ से ही कराये जाएं। हम इसकी मांग चुनाव आयोग से करेंगे। उन्होंने कहा था कि हम इस मांग को लेकर ‘बैलट सत्याग्रह’ तक करने को तैयार हैं। देश और लोकतंत्र के भविष्य के लिए हम सबसे अपील करते हैं कि वो ईवीएम को हटाए जाने के लिए हमारा साथ दें।

ईवीएम में खराबी की खबरों पर

बता दें ईवीएम में खराबी की खबरों पर अखिलेश यादव ने कई बार नाराजगी जाहिर की है। अपने बयानों में वे कई बार कह चुके हैं कि ईवीएम से मतदान होना लोकतंत्र को खतरा है। गौरतलब है कि लोकसभा चुनाव और इसके बाद विधानसभा चुनाव में ईवीएम की गड़बड़ी की शिकायतें काफी बढ़ी हैं। इसके साथ ही हाल ही में हुए लोकसभा के उपचुनाव में भी ईवीएम में गड़बड़ी को लेकर बड़ी शिकायतें आई थीं ।

इसके बाद विपक्षी पार्टी के लगभग सभी दलों ने ईवीएम से चुनाव करवाए जाने को लेकर एकजुट होकर बयान दिया था। अब लोगों के ऐंड्रॉइड मोबाइल फोन की कॉन्टेक्ट लिस्ट में उनकी मर्ज़ी के बिना ‘आधार कार्ड’ की हेल्पलाइन का नम्बर अवैध रूप से सेव हो गया है. इसका मतलब कुछ लोगों ने आपके फोन और उसकी सूचनाओं तक अपनी पहुंच बना ली है. इनमें वो लोग भी होगें, जो कहते हैं कि ईएवीएम पूरी तरह सुरक्षित है।

 

About Samar Saleel

Check Also

फ्री की यात्रा में मेरठ की महिलाएं अव्वल

लखनऊ। प्रदेश में रक्षाबंधन पर 12.03 लाख महिलाओं ने परिवहन निगम की बसों में मुफ्त ...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *