एडिफाई स्कूल : क्रिइवि व टूंडला पुलिस को मिली संयुक्त सफलता

फिरोजाबाद। बीते पांच अगस्त की रात्रि कुछ अज्ञात बदमाशों ने थाना टूंडला क्षेत्र स्थित सुप्रसिद्ध एडिफाई स्कूल की बिल्डिंग में पीछे की तरफ से खिड़की तोडकर विद्यालय के अध्यापकों द्वारा प्रयोग किये जाने वाले 15 लैपटाॅप चोरी कर लिये गये थे, जिसको लेकर थाना टूण्डला में मुकदमा दर्ज कराया गया था। एसएसपी सचिंद्र पटेल ने मामले को गंभीरता से लेते हुये एसपी सिटी राजेश कुमार के निर्देशन में प्रभारी क्राइम ब्रान्च टीम कुलदीप सिंह टीम व थाना टूण्डला की एक संयुक्त टीम गठित कर ठोस सूचना संकलन कर घटना के खुलासे को निर्देशित किया था, जिसका खुलासा गठित टीम द्वारा कर दिया गया।

एडिफाई स्कूल में चोरी का एसएसपी ने किया खुलासा

इस बारे में पुलिस लाइन सभागार में जानकारी देते हुये एसएसपी सचिन्द्र पटेल ने बताया कि 10 अगस्त 2018 को क्राइम ब्रांच प्रभारी कुलदीप सिंह को सूचना मिली कि तीन व्यक्ति एडिफाई में चोरी हुये लैपटाॅप कहीं बेचने के लिये कहीं जाने को टूण्डला ओवरब्र्रिज के नीचे खड़े हैं। प्रभारी निरीक्षक टूण्डला को अवगत करा उनके साथ खुद भी वे पहुंच गये। घेराबंदी कर तीनों को गिरफ्तार कर लिया। जिनके हाथों में सामान से भरे थैले मिले।

एसएसपी ने बताया कि प्रत्येक थैले में पांच पांच लैपटाॅप बरामद हुये। एडिफाई में चोरी करने के अलावा उक्त अभियुक्तों ने चार वर्ष पूर्व थाना दक्षिण क्षेत्र हंसवाहिनी के पास हिमायूंपुर निवासी दुर्वीन सिंह के यहां से चोरी करना बताया। इनके निशानदेही पर चोरी की दुनाली बन्दूक नम्बरी बरामद की गयी।

लैपटॅाप, बन्दूक समेत सभी सामान बरामद

पकड़े गये तीनों अभियुक्तों के बारे में बताया कि पहला जनपद हाथरस के थाना सिकन्दरा क्षेत्र नोरथा निवासी जीतेश उर्फ कचरा पुत्र रामनिवास, दूसरा फिरोजाबाद के थाना दक्षिण क्षेत्र हिमायूंपुर क्षेत्र चौधरी नन्नूमल स्कूल एवं मूल निवासी एटा के थाना जसरथपुर क्षेत्र ढंटीगरा निवासी हरनारायण पुत्र रामगोपाल सविता, तीसरा जनपद इटावा के थाना उदीमोड़ क्षेत्र गुलाब की गढिया निवासी दिनेश चंद्र राठौर पुत्र उमेश चंद्र राठौर हैं। बरामद सामग्री में 15 लैपटॅाप एडिफाई स्कूल के, एक 12 बोर की दुनाली बंदूक और दो बारह बोर जिंदा कारतूस आदि शामिल हैं।

गिरफ्तार करने वाली संयुक्त पुलिस टीम में प्रभारी निरीक्षक थाना टूण्डला वंशीधर पांडेय, क्राइम ब्रांच टीम प्रभारी कुलदीप सिंह, क्राइम ब्रांच के आरक्षियों में दिनेश कुमार, राहुल यादव, नदीम खान, पवन कुमार, रविंद्र कुमार, सर्वेश कुमार, सर्विलांस के आरक्षियों में अरूण कुमार, मुकेश कुमार, आशीष शुक्ला, अमित उपाध्याय आदि शामिल रहे।

मो० फरमान

About Samar Saleel

Check Also

दिल्ली सरकार का 10वीं-12वीं के छात्रों तोहफा- नहीं देनी होगी बोर्ड परीक्षा की फीस

सेंट्रल बोर्ड ऑफ सेकंडरी एजुकेशन (CBSE) के 10वीं और 12वीं बोर्ड की फीस बढ़ाने के ...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *