शहादत दिवस पर याद किए गए शहीद बंधू सिंह

गोरखपुर। चौरीचौरा के तरकुलहा देवी मंदिर परिसर में स्थित बंधू सिंह स्मारक पर रविवार को सदस्य सलाहकार समिति उपभोक्ता मामले खाद्य एवं रसद मंत्रालय भारत सरकार के भाजपा नेता रविकांत तिवारी की अध्यक्षता में अमर शहीद बाबू बंधू सिंह का शहादत दिवस मनाया गया। इस अवसर पर भाजपा नेता सहित अन्य लोगों ने अमर शहीद बाबू बन्धू सिंह के चित्र पर पुष्प अर्पित करके उन्हें श्रद्धा सुमन अर्पित किया।

शहीद बंधू सिंह ने 1858 में अंग्रेजों के विरुद्द

शहादत कार्यक्रम में उपस्थित लोगों को सम्बोधित करते हुए भाजपा नेता रविकान्त तिवारी ने कहा कि सन 1857 के वीर क्रांतिकारी योद्धा बाबू बंधू सिंह का जन्म 1 मई 1833 में चौरी चौरा क्षेत्र के बिशुनपुरा स्टेट में हुआ था। बाबू बंधू सिंह ने बचपन में ही अंग्रेजों द्वारा किये जा रहे जुल्म के विरुद्द लड़ाई लड़ने की ठान ली थी। जिससे अंग्रेजों के जुल्मों से भारत की जनता को आजाद कराने का मन बनाकर उन्होंने सन 1858 में अंग्रेजों के विरुद्द लड़ाई छेड़ दी। उनकी इस क्रान्ति को दबाने के लिए इस वीर क्रान्तिकारी योद्धा को अंग्रेजों ने पकड़ कर आज ही के दिन 12 अगस्त सन 1858 को गोरखपुर के अलीनगर में फांसी पर लटका दिया था। उन्होंने कहा कि देश की आजादी के लिए फांसी के फंदे को हंसते-हंसते चूमने वाले ऐसे वीर महापुरुष को यह देश हमेशा याद करता रहेगा।

कार्यक्रम में भाजपा नेता रविकांत के अलावां भाजपा जिला उपाध्यक्ष धनन्जय सिंह कौशिक, मंडल अध्यक्ष प्रकाश चन्द जायसवाल, वरिष्ठ भाजपा नेता पंडित राजकुमार ब्यास, अवधनरायन जायसवाल, बिशुनपुर मटियारा मंडल अध्यक्ष सुभाष पासवान, राजकुंमार गुप्ता, जयप्रकाश चौबे, राकेश राय, आलोक पटवा, अरूण कुमार सिंह, धीरू सिंह सोनू सिंह, डा. सत्यप्रकाश दुबे, अमित कुमार तथा पवन कुमार सहित अनेक लोग उपस्थित रहे।

रंजीत जायसवाल

About Samar Saleel

Check Also

दिल्ली सरकार का 10वीं-12वीं के छात्रों तोहफा- नहीं देनी होगी बोर्ड परीक्षा की फीस

सेंट्रल बोर्ड ऑफ सेकंडरी एजुकेशन (CBSE) के 10वीं और 12वीं बोर्ड की फीस बढ़ाने के ...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *