Kerela Flood : राजनाथ ने दी 100 करोड़ की मदद

केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह कल बिगड़े हालातों व बाढ़ग्रस्त इलाकों का निरीक्षण करने केरल पंहुचे। यहां के दो जिलों इडुक्की और एर्नाकुलम का हवाई सर्वेक्षण किया। इस दौरान उन्होंने Kerela Flood के गंभीर हालाताें को देखते हुए 100 करोड़ रुपये की फौरी केंद्रीय सहायता राशि देने की घोषणा की है।

इसे भी पढ़ें-बाहर निकलने से पहले जान लें कहां हो सकती है Heavy Rainfall

Kerela Flood : सहायता राशि देने की घोषणा

राजनाथ सिंह ने केरल के गंभीर हालाताें को देखते हुए 100 करोड़ रुपये की फौरी केंद्रीय सहायता राशि देने की घोषणा की है। केरल इन दिनों बेहद बुरी बाढ़ की स्थितियों से गुजर रहा है। तेज बारिश और बाढ़ की वजह से यहां बड़े पैमाने पर खेतों, आधारभूत ढांचे जैसे सड़कों और बिजली व्यवस्था को भारी नुकसान पहुंचा है।

पहली बार केरल में एेसी बाढ़

केंद्रीय गृह मंत्री ने यह भी कहा कि स्वतंत्र भारत के इतिहास में केरल में इसके पहले कभी एेसी बाढ़ नहीं देखी गर्इ। इस दौरान उनके साथ केरल के मुख्यमंत्री पिनाराई विजयन समेत राज्य सरकार के कर्इ दूसरे बड़े राजनेता मौजूद थे। इस दौरान राज्य सरकार की आेर से राजनाथ सिंह को एक ज्ञापन भी दिया गया है। इस ज्ञापन में राज्य के आधारभूत ढांचे को बहाल करने के राष्ट्रीय आपदा प्रबंध फंड से 1,220 करोड़ रुपये की सहायता राशि तत्काल मदद के लिए मांगी है। वहीं केंद्र सरकार से 8,316 करोड़ रुपये के पैकेज की मांग की है।

बारिश, बाढ़ आैर भूस्खलन ने कहर बरपा

बता दें कि बीते एक सप्ताह से केरल में बारिश, बाढ़ आैर भूस्खलन ने कहर बरपा रखा है। केरल में पेरियार नदी और उसकी सहायक नदियों में इन दिनों जल उफान पर है। इससे इड्डुकी, मलापुरम, कोझिकोड, एर्नाकुलम और तिरुवनंतपुरम जैसे जिलों में 30 से अधिक लोगों की जान जा चुकी है। वहीं केरल के बिगड़े हालातों का जायजा लेने के लिए शासन आैर प्रशासन अलर्ट है। सेना, नौसेना, वायुसेना, तटरक्षक बल और एनडीआरएफ ने यहां पर कमान संभाल रखी है। बड़ी संख्या में लोगों को सुरक्षित स्थान पर पहुंचाया जा चुका है।

About Samar Saleel

Check Also

महाराष्ट्र में भीषण हादसा, बस और कंटेनर की भिड़ंत में 15 लोगों की मौत-35 घायल

महाराष्ट्र के धुले में एक कंटेनर ट्रक और राज्य परिवहन बस की सीधी टक्कर में ...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *